उत्तर प्रदेश जालौन

अस्थायी गौशाला में भूसा व पानी के अभाव में गायों की स्थिति दयनीय

० सरकारी सहायता न मिलने से
गायों की हालत खराब

उरई ( जालौन )।(.गोविंद सिंह दाऊ):- कस्बा व क्षेत्र माधौगढ़ में अन्ना पशुओं से किसानों की फसल की रोकथाम के लिए प्रशासन व जनता के सहयोग से गॉव मे प्रधान द्वारा अस्थायी गौशाला खोलकर उसमें गायों की रहने की व्यवस्था तो की गयी लेकिन पर्याप्त भूसा व पानी की उपलव्धता न होने से गायों की स्थिति दयनीय हो गयी है।
माधौगढ तहसील के ग्राम बिचौली मे अन्ना पशुओं की रोकथाम के लिए स्थानीय प्रशासन के निर्देश पर ग्राम प्रधान नीलम पत्नी अजय ने ग्राम समाज की खाली पडी भूमि पर चारों ओर से तार लगाकर गायों को अन्दर रखने की व्यवस्था की है ! वही पर्याप्त भूसा व पानी के अभाव के चलते गायों की स्थिति दयनीय हो गयी है वही ग्राम प्रधान नीलम पत्नी अजय ने बताया कि वर्तमान समय में वनायी गयी अस्थायी गौशाला में 150 गाये है एक माह से गायों की खाने की वरावर व्यवस्था की जारही है नगर पंचायत से पानी के लिए टेंकर आता था जिससे पानी की व्यवस्था होती थी लेकिन एक हफ्ते से टैंकर के न आने से पानी की समस्या उत्पन्न होगयी वही प्रशासन की ओर से आर्थिक सहायता न मिलने से 150 गायों के लिए चारा की समस्या है। वही भूसा व पानी की पर्याप्त व्यवस्था न होने से गायों की दशा दयनीय होती जारही है ! यदि समय रहते स्थानीय प्रशासन ने ध्यान नही दिया तो भूंख से गायों की मौत हो सकती है।