नगर विकास,शहरी समग्र विकास, नगरीय रोजगार गरीबी उन्मूलन मंत्री उप्र सरकार आशुतोष टण्डन द्वारा..

प्रदेश आत्मनिर्भर भारत के अन्तर्गत प्रधानमंत्री स्वःनिधि एवं प्रधानमंत्री आवास योजना में प्रथम  

नगर विकास,शहरी समग्र विकास, नगरीय रोजगार गरीबी उन्मूलन मंत्री उप्र सरकार आशुतोष टण्डन द्वारा सर्किट हाउस में नगर निगम के कार्यो सहित स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत किये जा रहे कार्यो की प्रगति की जानकारी ली।

उन्होंने प्रगति की समीक्षा के साथ 9 विकास कार्यो का लोकार्पण व शिलान्यास किया। कहा कि झांसी का प्रदेश में गौरवशाली स्थान है,

इस महानगर का गौरव बना रहे, उसमें चार-चांद  लगे। इसके लिये प्रदेश सरकार, समस्त प्रतिनिधि लगातार प्रयासरत है और इन प्रयासों का सुखद परिणाम भी दिखने लगा है।

यह भी पढ़ें – कासगंज कांड : सिपाही देवेंद्र की हत्या का मुख्य आरोपित मुठभेड़ में ढेर

समीक्षा के दौरान मंत्री, नगर विकास, शहरी समग्र विकास,नगरीय रोजगार गरीबी उन्मूलन मंत्री आशुतोष टण्डन ने कहा कि पेयजल समस्या से निपटना हमारी प्राथमिकता है।

उन्होने अमृत योजना (जो अब अटल नवीनीकरण और शहरी परिवर्तन मिशन है) की समीक्षा करते हुये अमृत कार्यक्रम के अन्तर्गत झांसी पेयजल पुर्नगठन योजना फेज 1,2 के कार्यो की जानकारी ली। वर्तमान में फेज 1 की प्रगति 63 प्रतिशत है।

मेडीकल काॅलेज एवं कोछाभांवर जोन में पेयजलापूर्ति आरम्भ कर दी गयी है तथा गुमनावारा में आंशिक रुप से पेयजल आपूर्ति प्रारम्भ है।

फेज 2 के अन्तर्गत कार्य प्रारम्भ है और प्रगति 22 प्रतिशत एवं योजना पर रु 110.13 करोड़ का व्यय किया जा चुका है। बैठक में अमृत योजनान्तर्गत झांसी नगर में कराये जाने वाले कुल 7 पार्को के निर्माण कार्यो की भी समीक्षा की गयी।

यह भी पढ़ें – गरीबों का हक कोई न मारने पाये, राशन तय दरों में उपलब्ध करायें : आयुक्त

नगर निगम झांसी के विकास  कार्यों एवं स्मार्ट सिटी के कार्यो की समीक्षा में नगर आयुक्त अवनीश कुमार राय ने मंत्री जी को 14वें व 15वें वित्त आयोग से प्राप्त धनराशि व उपयोगिता की जानकारी दी।

उन्होने बताया कि महानगर में गढढामुक्त एवं सड़कों का नवीनीकरण कार्य लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत पूर्ण कर लिया गया है। नगर निगम ने 05 जुलाई 2020 को 75200 पौधों का रोपण किया। वृक्षारोपण हेतु कुल 23 स्थलों का चयन किया और एक ही दिन में लक्ष्य पूर्ण किया गया।

कर एवं करेत्तर देयो की वसूली के बारे में नगर आयुक्त ने बताया कि 2511.40 लाख लक्ष्य के सापेक्ष अभी वसूली 1244.90 लाख है जो कम है लेकिन अभी समय है और प्रयास करते हुये वसूली को बढाया जायेगा।

यह भी पढ़ें – श्रीमद्भागवत कथा के चैथे दिन श्रीकृष्ण की लीलाओं का वर्णन

स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत नगर आयुक्त ने डोर-टू-डोर कूड़ा कलैशन, ट्रांसपोर्टशन एवं प्रोसेसिंग, व्यक्तिगत,सामुदायिक,सार्वजनिक शौचालयों के निर्माण की प्रगति, स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 की तैयारी की अद्यतन स्थिति की बिन्दुवार जानकारी दी।

बैठक में स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत ठोस अपशिष्ट प्रबधन हेतु करारी में एमआरएफ सेन्टर के निर्माण कार्य के बारे में मा0 नगर विकास मंत्री जी को बताया। मा0 मंत्री जी ने कहा कि सभी कार्य समयबद्व ढंग से पूर्ण हो ताकि लोगों को लाभ समय से प्राप्त हो सके।

नगर आयुक्त ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 की तैयारी की अद्यतन स्थिति से भी नगर विकास मंत्री को अवगत कराते हुये बताया कि नगर निगम में स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के लिये ओडीएफ का क्यूसीआर द्वारा सत्यापन किया जा चुका है।

60 वार्डो में प्रतिदिन विशेष सफाई अभियान चलाया जा रहा है। इसके अतिरिक्त समस्त सार्वजनिक शौचालयों, सामुदायिक शौचालय, पेशाबघर का भी दिन में चार बार सफाई कार्य कराया जाता है। एनजीओ के माध्यम से नुक्कड़ नाटक एवं अन्य जागरुकता अभियान कार्यक्रम किये जा रहे है।

यह भी पढ़ें – बुन्देलखण्ड को नयी पहचान दिलानें का काम करेगा, झाँसी में आयोजित होने वाला एग्रो फेस्ट

निराश्रित गौवंशों के खाद्यान के लिए एक करोड़ 50 लाख का मांगपत्र  

नगर निगम झांसी की समीक्षा बैठक में निराश्रित गौवंश हेतु गौ आश्रय स्थल की जानकारी देते हुये नगर आयुक्त ने बताया कि 1305 कुल सरंक्षित पशु है जिसमें 630 बधियाकरण किया जा चुका है।

तथा शत-प्रतिशत इयर टैगिंग कर लिया गया है। उन्होने कहा कि गौवंश हेतु 1 करोड़ 50 लाख खाद्यान्न के लिये मांगपत्र प्रेषित किया परन्तु मात्र 36 लाख ही धनराशि प्राप्त हुई। मंत्री जी ने शेष धनराशि तत्काल दिये जाने के निर्देश दिये।

यह भी पढ़ें – उत्तराखंड आपदा में लापता लोगों की सूचना के लिए बांदा में बना कंट्रोल रूम 

6376 लोगों को मिली सर्दी से राहत  

नगर आयुक्त ने बताया कि नगर निगम क्षेत्र में 5 आश्रय गृह का संचालन किया गया, जिसमें रात्रि में ठहरने वाले व्यक्तियों व महिलाओं को नियमित रुप से कम्बल, रजाई, गददा आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करायी गयी।

जनपद में प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेण्डर आत्मनिर्भर निधि (पीएम स्वनिधि) योजना की भी जानकारी देते हुये बताया कि 14121 का पंजीकरण किया गया।

विभिन्न स्तर पर कार्यवाही प्रचलित है तथा 6376 को लाभान्वित किया जा चुका है। उन्होने प्रधानमंत्री आवास योजना की जानकारी दी।

यह भी पढ़ें – कपिल शर्मा के घर गूंजी फिर किलकारी, गिन्नी ने दिया बेटे को जन्म

27 करोड़ के 9 कार्यों का लोकापर्ण  

समीक्षा बैठक के पश्चात नगर विकास मंत्री द्वारा लगभग रु 27 करोड़ की धनराशि से 9 कार्यो का लोकार्पण किया। उन्होने इस अवसर पर अपने उद्बोधन में नगर वासियों को शुभकामनाये देते हुये कहा कि झांसी का प्रदेश में गौरवशाली स्थान है, इस महानगर में चार-चांद लगे, इसके लिये प्रदेश सरकार प्रतिबद्व है।

झांसी स्वच्छता में 169 नम्बर पर था परन्तु विगत दो वर्षो में 60 वें स्थान पर आ गया है। इस वर्ष झांसी टाॅप 10 में शामिल हो ऐसे प्रयास किये जाये।

उन्होने कहा कि मोदी ने देश भर में 100 स्मार्ट सिटी बनाने की घोषणा की, जिसमें स्मार्ट सिटी बनाने के लिये 10 महानगर उप्र को मिले हैं। प्रदेश में 17 नगर निगम है जो 7 शेष रह गये, उन्हे मुख्यमंत्री योगी राज्य स्मार्ट सिटी घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें – Myntra के लोगो के बाद, अब लोगों ने इन कंपनियों के लोगो में भी पायी अश्लीलत

khelo aor jeeto | bundelkhand news quiz | lucky draw contest

हिं.स





Source link

0Shares

ताज़ा ख़बरें

%d bloggers like this: