उत्तर प्रदेश जालौन

तीन सूत्रीय मांगों को लेकर पीआरडी जवानों ने किया प्रर्दशन

० मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन डीएम को सौंपा

उरई (जालौन)।(.गोविंद सिंह दाऊ):- पीआरडी के सैकड़ों जवानों ने अपनी तीन सूत्रीय मांगों को लेकर जुलूस निकाल कर कलेक्ट्रेट परिसर में प्रर्दशन कर मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को भेंट किया।
तीन सूत्रीय मांगों को लेकर पीआरडी विभाग के मीडिया प्रभारी लालाराम प्रजापति, रामबाबू, रामसेवक, संतोष कुमार, मिंटू, गुलाब सिंह, वासुदेव, माताचरण जाटव प्रांतीय उपाध्यक्ष, दीपक कुमार, दुर्गाप्रसाद, अखिलेश कुमार, शोभाराम सिंह, संजय कुमार, राजेंद्र खरे, राजेश कुमार आर्या, हरीमोहन, अजय कुमार, अरविंद कुमार, रविन्द्र सिंह, लक्ष्मी नारायण, सचिन तिवारी, उत्तम सिंह, उमाशंकर सिंह, अरविंद कुमार आदि तीन सूत्रीय मांगों को लेकर कलेक्ट्रेट परिसर में प्रर्दशन कर मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को भेंट किया।मुख्यमंत्री को भेजे ज्ञापन में पीआरडी जवानों ने मांग की है कि प्रांतीय रक्षक दल का गठन 1948 किया गया था स्वतंत्रता के 70 वर्ष बाद भी पीआरडी जवान रोजी रोटी के लिये भटक रहा है जबकि 1965 में गठित होमगार्ड विभाग हमारी ही जमीन पर कब्जा करके आज 500 रुपये प्रतिदिन डयूटी भत्ता पाकर खुशहाल है जबकि डयूटी पर पीआरडी जवानों को मात्र 250 रुपया प्रतिदिन भत्ता देकर बेगार कराई जा रही है।होमगार्ड जवानों का कहना है कि सरकार के इस सोतेले पन से प्रदेश के लगभग 90 हजार पीआरडी जवान मायूस होकर भुखमरी की कगार पर है।उन्होंने सरकार से मांग की है कि पीआरडी विभाग को ग्रह विभाग से जोड़ा जाये तथा जवानों का न्यूनतम भत्ता 18 हजार प्रतिमाह किया जाये तथा पीआरडी जवानों की डयूटी प्रदेश के सभी थानों में लगाई जाये। उन्होंने सरकार से जल्द समस्या को हल किये जाने की मांग उठाई है।

Leave a Reply