बुंदेलखंड में जैविक खेती का बहुत स्कोप है।महोबा और हमीरपुर में इस दिशा में काफी काम किया जा रहा है।मंडल के सभी जनपदों के…

बुंदेलखंड में जैविक खेती का बहुत स्कोप है, महोबा और हमीरपुर में इस दिशा में काफी काम किया जा रहा है।मंडल के सभी जनपदों के डीएम जैविक खेती को प्रोत्साहित करने के लिए किसानों के क्लस्टर बनाये जाएं। यह निर्देश आयुक्त चित्रकूटधाम मंडल, बाँदा गौरव दयाल ने जनपद महोबा के लहचूरा बांध पर विकास एवं प्रशासनिक कार्यों की मंडलीय समीक्षा बैठक के दौरान दिये।

उन्होंने कहा कि उन्होंने मंडल में किसान सम्मान निधि योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि बांदा जनपद में सर्वाधिक 42000 मामले पेंडिंग हैं, जिनमें किसानों को लाभान्वित नहीं किया गया है जबकि महोबा में 8000 लोग हैं जो ईडेंटिफाई नहीं हुए हैं।

उन्होंने सभी जिलाधिकारियों को इस संबंध में निर्देशित करते हुए कहा कि इस कार्य को प्राथमिकता से करायें जिससे मंडल में एक भी किसान इस योजना का लाभ लेने से वंचित न रहे।

उन्होंने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में किसानों को सर्वाधिक क्लेम दिलाने के मामले में महोबा डीएम की सराहना की। साथ ही कहा कि मंडल के सभी जिलाधिकारी इस योजना के अंतर्गत ज्यादा से ज्यादा किसानों को लाभान्वित करायें। इस दौरान मण्डलायुक्त ने विभिन्न विभागों की समीक्षा करते हुए कहा कि सरकार द्वारा चलायी जा रहीं जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लेने से कोई भी पात्र व्यक्ति वंचित नहीं रहना चाहिए। 

मंडलायुक्त ने गौवंश संरक्षण की समीक्षा में कहा कि सभी डीएम व सीडीओज गौशालाओं में गौवंश को ठंड से बचाने के लिए पर्याप्त इंतजाम करायें।एक भी गौवंश ठंड नहीं मरना चाहिए अन्यथा कार्रवाही की जाएगी।





Source link

0Shares

Leave a Reply

%d bloggers like this: