उत्तर प्रदेश जालौन

समय से नहीं आते अध्यापक, स्कूलों की हालत खराब

० माधौगढ़ तहसील के विद्यालयों हाल बेहाल

उरई (जालौन)। (गोविंद सिंह दाऊ):-. एक ओर योगी जी शिक्षा स्वास्थ्य की बात कर प्रदेश को नए शिखर पर ले जाने की बात करते हैं,वहीं गांव में सरकारी स्कूलों की दशा अभी तक सुधरते नहीं दिख रही है। हजारों रुपये की तनख्वाह पाने बाले मास्टर साहब विद्यालय में समय से आने का नाम नहीं लेते हैं ।
माधौगढ़ ब्लाक के सुरपतिपुरा गांव के प्राथमिक और जूनियर विद्यालय में 10.30 बजे तक कोई भी अध्यापक नहीं आये। प्राथमिक विद्यालय में तैनात संतोषी और विशंभर यादव में से कोई नहीं आया था। स्कूल में बच्चे अध्यापक का इंतजार कर रहे थे,वहीं उच्च प्राथमिक विद्यालय में रसोइये ने विद्यालय खोला लेकिन अध्यापक नदारद थे।जबकि प्राथमिक विद्यालय मे लगभग पैंतालीस बालक और बालिकाय शिक्षा गृहण करने आती है।और जूनियर हाई स्कूल में पचपन बच्चे शिक्षा प्राप्त करने की उम्मीद से सुबह नौ बजे विद्यालय उपस्थित हो जाते है।लेकिन भारी भरकम पगार पाने बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ करने मे जरा संकोच नहीं करतें हैं।अध्यापकों के इस रवैये से ग्रामीणों मे रोष है। बीईओ कमलेश गुप्ता ने कहा कि अध्यापकों से बात की जाएगी कि किन कारणों से इतनी देर तक विद्यालय में नहीं आये।