इटावा उत्तर प्रदेश

सिटी उप डाकघर इटावा में कार्यरत कर्मचारी लोगों के साथ बदसलूकी करने से नहीं डरती

इटावा (आशुतोष दुबे /बृजेश दीक्षित)। प्रधानमंत्री की योजनाओं को धता बताते हुए सिटी उप डाकघर इटावा में कार्यरत कर्मचारी लोगों के साथ बदसलूकी तक करने से नहीं हिच किचाते। इस तरह यह डाकघर लोगों के लिए परेशानी का सबब बन गया है।
पीड़ित लोगों का कहना है कि इस डाकघर में तैनात बाबू के मुंह लगे लोग भीतर बैठकर बाहर से आने वाले लोगों के साथ बेहूँदी बातें करते है यहां तक की शासन के निर्देशों के मुताबिक डाक घर में धन जमा कराने वाले एजेंटों जो ऊंची पहुंच के हैं उन्हें भीतर बैठा लिया जाता है और अन्य एजेंटों को बाहर खड़ा करके उन्हें अब शब्दों से नवाजा जाता है। यहां तक की डाकघर में खाता खुलवाने के लिए लोगों को कई कई चक्कर लगाने पड़ते हैं। एनएससी एवं आरडी आदि के लिए भी लोगों को परेशान किया जाता है इस सब के पीछे यहां तैनात बाबू की धन कमाओ नीति काम कर रही है।
बताया तो यह भी जाता है कि खाता खुलवाने का ₹50 अतिरिक्त लिया जाता है न देने वाले को टरका दिया जाता है इससे शासन की योजना सुकन्या समृद्धि योजना एवं धन जमा योजनाओं का लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा है अभी अशोक नगर स्थित उप डाकघर में हुए गोलमाल का पूरी तरह निराकरण भी नहीं हो पाया कि इस डाकघर में भी लोगों के साथ इस तरह की हरकत होने की आशंका बनी है। लोगों ने डाक अधीक्षक से जांच की मांग की है।