उत्तर प्रदेश जालौन

सिटी मजिस्ट्रेट व तहसील के भ्रष्टाचार के विरोध में वकील हड़ताल पर

० कलैक्ट्रेट अधिवक्ताओं ने उठाई दोनों के स्थानांतरण की मांग

उरई (जालौन)।(गोविंद सिंह दाऊ):- सदर तहसील उरई के तहसीलदार श्रीराम यादव व सिटी मजिस्ट्रेट पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए राजस्व विभाग कलैक्ट्रेट व तहसील के अधिवक्ता विगत 21फरवरी से अपने कार्य से विरत रहकर हड़ताल पर उतर आये तथा अधिवक्ताओं ने जिलाधिकारी से मांग की है भ्रष्टाचार को बढावा देने वाले दोनों अधिकारियों का स्थानांतरण किया जाये।जिससे अधिवक्ताओं व वादकारियों को सही न्याय मिल सके।
सिटी मजिस्ट्रेट व सदर उरई के तहसीलदार श्रीराम यादव द्वारा फैलाये जा रहे भ्रष्टाचार के विरोध कलैक्ट्रेट व तहसील के राजस्व अधिवक्ता विगत 21 फरवरी से हड़ताल पर चल रहे आज गुरुवार को अधिवक्ता जगदीश पांचाल, राजेंद्र सिंह, राजेश श्रीवास्तव, अभिलाख सिंह सेंगर, नाथूराम त्रिपाठी, जयप्रकाश सिंह, अवधेश निरंजन, शिवाकांत पाठक आदि ने दोनों अधिकारियों के स्थानांतरण की मांग उठाते हुए विरोध प्रर्दशन किया। उनका आरोप है दोनों अधिकारी भ्रष्टाचार के चलते मनमाने आदेश कर विपक्षी पार्टी से धन की उगाही करते है जिससे पीड़ित पक्ष को सही न्याय नहीं मिल पाता है। अधिवक्ताओं ने जिलाधिकारी से मांग की है दोनों भ्रष्ट अधिकारियों को हटाया जाये जिससे न्यायालय में चल राजस्व से सम्बंधित मामलों में सही ब्यक्ति को न्याय मिल सके। उनका कहना है कि जब तक दोनों अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही अमल में नहीं लाई जाती है उनकी यह हड़ताल निरंतर जारी रहेगी।