उरई (जालौन)( गोविंद सिंह दाऊ):- जिला अस्पताल के बाहर खड़ी प्राइवेट गाडि़यां मरीजों को लूटने का काम करती हैं। ऐसा मालूम पड़ता है कि उनके इस कार्य में अस्पताल प्रशासन बराबर का भागीदार है। पिछले दिनों सीएमओ डॉ अल्पना बरतरिया ने इसको संज्ञान में लेकर सीओ सिटी संतोष कुमार के साथ अभियान चला कर प्राइवेट गाडि़यों को अस्पताल के बाहर से खदेड़ कर भगा दिया था और चेतावनी दी थी कि कोई भी प्राइवेट गाड़ी अस्पताल परिसर के बाहर खड़ी नहीं होगी। यहां केवल सरकारी ऐम्बुलेंस ही खड़ी होंगी। लेकिन थोड़े अन्तराल के बाद ही फिर प्राइवेट वाहन अस्पताल के बाहर खड़े दिखाई दे रहे हैं। और यह वाहन चालक इमरजेंसी वाले मरीजों से मनमानी कीमत वसूल कर लूट रहे हैं। ऐसा मालूम होता है कि इस सारे कार्य में अस्पताल प्रशासन की मूक सहमति है। बताते चलें कि प्राइवेट एम्बुलेंस के चालक ट्रामा सेंटर के बाहर गाडियों को खडा कर ट्रामा सेंटर के बरामदे के झुण्ड बनाकर बैठे रहते है और आने वाले मरीजों को बाहर ले जाने के नाम पर उनसे लूट करते हुए देखे जा सकते है जबकि सरकारी एम्बुलेंस मरीजों के तीमारदारों को दिखायी तक नहीं देती है जो अस्पताल के अन्दर इधर उधर खडी दिखाई देती है जिनका लाभ गरीब मरीजों को नहीं मिल पा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *