० चौथ दिन भी लेखपालों ने मांगों को लेकर भरी हुंकार

उरई (जालौन)।(गोविंद सिंह दाऊ):- उ. प्र. लेखपाल संघ के आवाहन अपनी आठ सूत्रीय मांगों पर सरकार की ओर से अपेक्षित सहयोग के अभाव में लेखपाल संघ द्वारा आज से समूचे जनपद में चौथे दिन शुक्रवार भी हडताल जारी रही। लेखपालों की अनिश्चित कालीन हडताल से शासन व प्रशासन भी हिल गया है। शासन की चेतवानी के बाद भी लेखपालों काफी जोश दिखाई दिया।
जिला मुख्यालय उरई तहसील के लेखपालों ने आज शुक्रवार को चौथे दिन भी अपना समूचा कार्य वहिष्कार कर तहसील परिसर के अंदर मांगों को लेकर धरना प्रर्दशन किया। जिसकी अध्यक्षता लेखपाल कौशलेंद्र श्रीवास्तव ने की तथा संचालन दिनेश कुमार श्रीवास्तव बाबा ने किया। धरना सभा में विचार ब्यक्त करते हुए कहा वेतन उच्ची करण, वेतन विसंगति एवं पेंशन विसंगति, भत्तों में वृद्धि तथा आर. आई. सेवा नियमावली को कैविनेट में पारित कराना इसके साथ ही लैपटॉप व स्मार्ट फोन उपलब्ध करवाया जाये तथा प्रोन्नति आधार भूत सुविधाएं एवं संसाधन उपलब्ध करवाना आदि मांगों को जल्द मानने के लिए संघ द्वारा जोर दिया गया ताकि जनहित में कार्य प्रभावित न हो और पीडित कर्मचारियों को न्याय मिल सकें। धरना सभा में प्रमुख रूप से जिलाध्यक्ष लेखपाल संघ लायक सिंह, राजकुमार श्रीवास्तव, दिनेश श्रीवास्तव बाबा, राजेंद्र प्रसाद प्रजापति, कौशलेंद्र, राघवेन्द्र समाधियां, सुरेश यादव, शत्रुघन सिंह चौहान, अरविंद नायक, अमित कुमार, चंदन कुमार, रौनक शर्मा, देवेंद्र गौतम, रामरतन, अमित राजावत, रवि प्रकाश, महेश कुमार, हरीशंकर, रमेश गुप्ता, दिग्विजय सिंह, विनोद वर्मा, सत्यप्रकाश पाठक, रामजी तिवारी, हरिमोहन निरंजन सहित आदि लेखपाल मौजूद रहे। इसके साथ ही आज कर्मचारी शिक्षक मोर्चा के नेताओं ने लेखपालों की हडताल का समर्थन किया और लेखपालों की न्योचित मांगों पूरा करने की मांग सरकार से की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *