पहली बारिस ने ही खोल दी स्वच्छ भारत अभियान की पोल

उरई (जालौन)( गोविंद सिंह दाऊ):- ।बीती रात हुई जोरदार बारिस ने पूरे जिले को तहस-नहस कर दिया है | लोग सुबह जाग कर अपने घरों के बाहर जमा कूड़ा-कचरा साफ़ करने में लगे रहे, और कही कही तो लोगों के खुद ही नालियां भी साफ़ करनी पड़ी है | लेकिन नगर पालिका के कर्मचारियों और अधिकारियो के ऊपर कोई असर नहीं हुआ है, उनको अपनी जिम्मेदारी का कोई अहसास नहीं है | सफाई कर्मचारियों की लापरवाही का नतीजा जनता को उठाना पड़ रहा है और जनसेवक नगर विधायक जी माह उरई के प्रत्येक बार्डों में जाकर लोगों की समस्या सुनी व देखी थी | लेकिन अगर उस समय ही समस्यों का समाधान हो जाता तो आज इन समस्याओं से जनता को रूबरू न होना पड़ता | इस सम्बंध में समाजसेवी सुनील हिन्दुस्तानी का कहना कि थोड़ी सी बारिश होते शहर की नालियों का कूडा-कचरा बाहर निकल कर सडकों पर बहने लगता है जिसके अन्दर से होकर आम जनता को गुजरना पडता है। सफाई ब्यवस्था का यह आलम है कि सफाई कर्मी नालियों का कचरा निकाल कर उसी के किनारे लगा देते है जो पानी बरसने पर पुनः यह कचरा नालियों में शमा जाता है जिसकी बजह से नालियां गंदगी से पटी रहती है इसके बाद भी पालिकाध्यक्ष अनिल बहुगुणा इस ओर कोई गौर नहीं कर रहे है जिसका खामियाजा शहर की जनता को भुगतना पड रहा है।

× How can I help you?