अयोध्या: कार्यक्रम में हुआ अचानक बदलाव, आज ही वापस मुंबई लौट जाएंगे शिव सैनिक

वो चाहते हैं कि हम उनके बयानों पर बोलें और विवाद खड़ा हो-

इमाम बुखारीअयोध्या में 1992 जैसा माहौल पैदा करने की कोशिश: मौलाना खालिद रशीदअयोध्या में हिंदू संगठनों के जमावड़े के पीछे बीजेपी-RSS की पॉलिटिकल स्ट्रेटेजी: जिलानीकिन्नर अखाड़े ने किया VHP का समर्थन, कहा-‘जो राम’ का नहीं वो किसी काम का नहीं’

उत्तर प्रदेश

अयोध्या: कार्यक्रम में हुआ अचानक बदलाव, आज ही वापस मुंबई लौट जाएंगे शिव सैनिक
शिवसेना प्रमुख शाम 6:00 बजे सरयू तट पर आरती कार्यक्रम में शामिल होंगे. अयोध्या में रात्रि प्रवास के बाद 25 नवंबर यानी रविवार को सुबह 9:00 बजे रामलला का दर्शन करेंगे.

अयोध्या: कार्यक्रम में हुआ अचानक बदलाव, आज ही वापस मुंबई लौट जाएंगे

उद्धव ठाकरे के अयोध्या पहुंचते ही शिवसेना ने अपने कार्यक्रम में अचानक बदलाव किया है. शिवसैनिक शनिवार को ही अयोध्या से मुंबई के लिए विशेष ट्रेन से रवाना हो जाएंगे. इस बाबत शिवसेना ने रेलवे के अधिकारियों को पत्र लिखकर जानकारी दी है. जानकारों के मुताबिक इस बदलाव के पीछे वीएचपी कार्यकर्ताओं और शिव सैनिकों के बीच ठकराव की स्थिति पैदा न हो इसलिए यह कदम उठाया गया हैं. इससे पहले तय कार्यक्रम के मुताबिक शिव सैनिकों को रविवार को मुंबई वापस जाना था. वहीं अयोध्या में मंदिर निर्माण को लेकर विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) ने रविवार को ‘धर्मसभा’ का आयोजन किया है. जहां वीएचपी ने दावा किया है कि ‘धर्मसभा’ में एक लाख से ज़्यादा लोग शामिल होंगे.

शिवसेना प्रमुख शाम 6:00 बजे सरयू तट पर आरती कार्यक्रम में शामिल होंगे. अयोध्या में रात्रि प्रवास के बाद 25 नवंबर यानी रविवार को सुबह 9:00 बजे रामलला का दर्शन करेंगे. अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए अपनी पार्टी के अभियान को तेजी देने के उद्देश्य से ठाकरे ने ‘पहले मंदिर, फिर सरकार का नारा दिया है. अयोध्या के लक्ष्मण किला मैदान में उद्धव ठाकरे की रैली को लेकर तैयारी पूरी हो गई है. मंच पर बड़ा पोस्टर लगाया गया है. जिसमें बाला साहब ठाकरे की तस्वीर के साथ उद्धव ठाकरे की फोटो लगी है.

पत्र की काॅपी

वहीं उनके बेटे आदित्य ठाकरे के साथ ही बड़े पोस्टर में भगवान राम की एक बड़ी तस्वीर भी लगाई गई है. इस पोस्टर के जरिए एक बार फिर संदेश देने की कोशिश की जा रही है कि राम मंदिर आंदोलन से शिवसेना का पुराना नाता रहा है. मैदान में संतों के बैठने की गद्दी और छतरी तैयार है. हवन कुंड भी तैयार किया गया है.

बता दें कि शिवसेना पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे अयोध्या जाने से पहले पुणे जिले के शिवनेरी किले पर गये थे, शिवनेरी किले से एक कलश में मिट्टी ली और वह कलश वो अपने साथ अयोध्या ले जाने वाले है, जहां वह इसे राम जन्मभूमि के महंत को सौंपेंगे. अयोध्‍या में वह पुजारियों और साधु-संतों के साथ बैठक कर राम मंदिर निर्माण के बारे में चर्चा करेंगे.

Leave a Reply

Show Buttons
Hide Buttons