July 4, 2020

A2Z News UP

खबर वहीं जो सत्य हो

ट्रामा सेंटर के बगल में लगा फ्रीजर बना शोपीस


चाटुकार डाक्टरों के चंगुल में उलझे रहते सीएमएस
० ट्रामा सेंटर में आने वाले मरीज झेल रहे पेयजल संकट

उरई (जालौन)।(गोविंद सिंह दाऊ):-। जनपद जालौन के मुख्यालय स्थित जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर के बगल में लगा एक मात्र फ्रीजर इस भीषण गर्मी में शोपीस बना खड़ा हुआ जिसके चलते ट्रामा सेंटर में उपचार करवाने के लिए आने वाले मरीजों और उनके तीमारदारों को पेयजल संकट का सामना झेलना पड़ रहा है। इसके बावजूद अस्पताल के सीएमएस कुछ चाटुकार डाक्टरों के चंगुल में फंसे होने के कारण इस गम्भीर समस्या की ओर कोई ध्यान नहीं दे रहे है।
भीषण गर्मी के साथ ही फैली कोरोना वायरस की बीमारी के दौरान जिला अस्पताल में मरीजों के आने का क्रम जारी है। बाहर से आने वाले प्रवासी मजदूर जांंच करवाने के लिए अस्पताल आ रहे है इसके बाद भी अस्पताल परिसर के अंदर भीषण गर्मी में पेयजल की कोई ब्यवस्था नहीं है जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर के बगल में जो फ्रीजर लगा है वह भी खराब पड़ा है जिससे आने वाले मरीजों और तीमारदारों को पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा है। बावजूद इसके अस्पताल के सीएमएस को इस समस्या से कोई लेना देना नहीं है वह तो केवल कुछ चाटुकार डाक्टरों के चक्कर में समय ब्यतीत करते हुए देखे जा सकते है। इस सम्बध में आज अस्पताल के ट्रामा सेंटर में मौजूद पूर्व प्रधानाचार्य एवं समाजसेवी डा. नत्थू सिंह सेंगर ने अस्पताल परिसर के अंदर प्यास से भटक रहे लोगों से बात कर उन्हें पीने के पानी की ब्यवस्था करवाई यह लोगों प्रवासी मजदूर थे जो अपनी जांंच करवाने के लिए आईसोलेशन कक्ष में आये थे। श्री सेंगर अस्पताल प्रशासन व जिला प्रशासन से मांग की है कि अस्पताल परिसर में पेयजल की ब्यवस्था करवाई जाये जिससे पीने के पानी को मरीजों को न भटकना पड़े।

Keine News gefunden