त्योहार पर आवारा सुअरों के विचरण पर रोक लगाये जाने की मांग


मुस्लिम समाज के लोगों ने नगर पालिका प्रशासन से उठाई मांग

उरई(जालौन)।(गोविंद सिंह दाऊ):-। बकरीद का त्योहार 01 अगस्त को पड़ने वाला है इसके बाद भी आवारा सुअर सड़क पर घूम रहे है जो जमा गंदगी को सड़कों पर फैलाने का काम कर रहे है। जिससे रास्ता चलते लोगों को सड़क से निकलने में भारी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।
त्योहार के मौके पर शहर में घूमने वाले आवारा सुअर लोगों के लिए परेशानी का सबब बने हुए हैं। शहर के रहने वाले संभ्रांत लोगों में समाजसेवी यूसुफ अंसारी अलमारी वाले, सपा के पूर्व नगर अध्यक्ष शफीकुर्रहमान कश्फी, हलीम अंसारी, रियाज अहमद आदि ने
उप जिलाधिकारी सदर उरई, नगर पालिका परिषद के अधिशासी अधिकारी संजय कुमार से सुअरों के विचरण पर रोक लगाने की मांग की है। इन लोगों का कहना है कि संचारी रोगों की रोकथाम के लिए पूरे प्रदेश में अभियान चलाया जा रहा है। इसके अलावा शहर में भी विशेष सफाई अभियान चलाया जा रहा है जिससे संक्रामक रोगों को रोका जा सके। सरकार के तमाम प्रयासों के बाद भी
शहर में बरसात में संक्रमण रोकने के लिए सुअरों के विचरण पर रोक नहीं लग पा रही है। सुअर पालक सुअरों को खुला छोड़े हुए हैं। जिससे बड़ी संख्या में सुअर बाजार व शहर की गलियों में भ्रमण कर रहे हैं। जहां कभी ये सुअर दुर्घटना का कारण बनते है तो कभी किसी व्यक्ति के हाथ से कोई खाने पीने की वस्तु छीनकर उसे खराब कर देते हैं। आवारा सुअरों से पूजा, अर्चना एवं नमाज आदि के लिए जाने वाले लोग भी परेशान होते हैं। सड़कों पर खुले घूमते सुअर बच्चों के लिए भी परेशानी का सबब बने हुए हैं। शहर की गोपालगंज सब्जी मंडी के साथ ही बजरिया, तिलकनगर, कृष्णानगर सहित लगभग हर गली व वार्ड में सुअर घूमते हुए नजर आ जाते हैं। समाजसेवियों ने एसडीएम व पालिका प्रशासन से मांग की है कि सुअर पालकों को उनके जानवर चिन्हित कराया जाये। त्योहार को देखते हुए आवारा सुअरों के विचरण पर रोक सके और सड़कों पर गंदगी न फैल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

× How can I help you?