गौशाला के नाम पर शासन से आयी लाखों रुपये की धनराशि प्रधान व सचिव ने बंदरबाट कर डाली



उरई (जालौन)(गोविंद सिंह दाऊ):-। ।जालौन विकास खण्ड के ग्राम बाबई बना भरष्टाचारी का अड्डा बनता जा रहा है जहाँ पुरत बाई पुरत खुल रही ग्राम प्रधान व सचिव की मिली भगत की पोले। जहाँ शासन की योजनाएं लिखा पड़ी में पूरी है लेकिन उनका लाभ ग्रामीणों को मिलना तो दूर की बात खुले में दर दर भटक रही वेजुवान गायो को भी नही मिला । गौशाला के नाम पर शासन से आये लाखों रुपये धर्मेंद्र प्रधान व सचिव ने बंदरबाट कर हड़पे में लगे हुए हैं।भले ही प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ पूरे प्रदेश में वेजुवान गायो के लिए योजना चला कर गौशालाओ व उनके चारे के लिए लाखों रुपये ग्राम प्रधानों को दे रहे है जिससे दर दर रोड पर भटक रहे वेजुवान जानवरो को अच्छे से रखा जाए और उन्हें भूख से न मरना पड़े । लेकिन जनपद जालौन के जालौन ब्लॉक के ग्राम बाबई में लोगो का कहना है कि यह सफाई के नाम पर सिर्फ दिखावा किया जाता है यदि कोई अधिकारी आता है तो सफाई कर दी जाती है नही हो कोरोना जैसी महामारी में भी सफाई देखने को नही मिलती वही लोगो का यह भी कहना है कि बरसात में तो लोगों का निकलना भी दुश्वार हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

× How can I help you?