फांसी लगाकर हत्या करने के मामले में आरोपियों पर कार्यवाही की मांग


विनौरा वैद्य ग्राम के पीड़ित परिवार ने एसपी को सौपा ज्ञापन
० आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करने की मांग उठाई

उरई (जालौन)(गोविन्द सिंह दाऊ):-। चुरखी थाना क्षेत्र के अंर्तगत ग्राम विनौरा वैद्य निवासी दलित परिवार के दर्जनों लोगों ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंच कर शिकायती देते हुए उनकी पुत्री का अपरहण कर फांसी लगाकर हत्या किये जाने के बाद भी थाना पुलिस आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज न करने आरोप लगाया है। पीड़ित परिवार ने मुकदमा दर्ज कर आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग एसपी से की है जिससे उन्हें न्याय मिल सके।
चुरखी थाना क्षेत्र के अंर्तगत ग्राम विनौरा वैद्य निवासी मलखान सिंह पुत्र गोपाल ने आज अपने परिवार और ग्रामीणों के साथ एसपी कार्यालय पहुंच कर दिये शिकायती पत्र में बताया है कि वह हरिजन बसोर जाति का है प्रार्थी के गांव के दयाल पुत्र अमर सिंह, गोलू पुत्र कीर्जेन्द, मयंक पुत्र कीर्जेन्द, कल्लू पुत्र भागीरथ, शिवम पुत्र रघुवीर जो अलग-अलग जाति के और दबंग है तथा संगठित होकर अनुसूचित जाति के लोगों पर अत्याचार करते है।इनमें दयाल सिंह अपराधी होने के कारण जिला वदर भी रहा है।शिकायत कर्ता का आरोप है कि 30 जून को शाम 7 बजे उक्त सभी लोग तमंचा व लाठी लेकर घर के अंदर घुस आये इस दौरान प्रार्थी की बेटी के विवाह की तैयारी चल रही थी तभी उक्त लोगों ने एकराय होकर उसकी छोटी बेटी आरती 17 वर्ष को पकड़ लिया और बोले बड़ी बेटी सजनी का विवाह कर दोगे लेकिन छोटी बेटी आरती को पकड़ कर ले जा रहे है जिसका विरोध किया तो गालीगलौज जान से मारने की धमकी दे डाली इसी दौरान घर वाले कालीचरण व उसकी पत्नी मीना और लड़का मुकेश आदि ने शोर मचाया तो पडोस में रहने वाले लाखन पुत्र गोपाल, सरजू पुत्र लटोरे आदि लोग आ गये मगर उक्त लोगों द्वारा तमंचा दिखाने और आतंक के डर से आरती को नहीं बचा पाये।पीड़ित का आरोप है कि उक्त लोग दयाल सिंह की मोटरसाइकिल से आरती को घसीटते हुए कह रहे थे कि रिपोर्ट लिखाने गये तो लड़की जिंदा नहीं मिलेगी। पीड़ित का कहना है कि लड़की को वापस करने की बहुत आरजू मिन्नत की तो उक्त लोगों ने विश्वास दिलाया कि लड़की वापस घर आ जायेगी। आरोप है बाद में सुबह 6 बजे इन लोगों ने घर वालों को बताया कि तुम्हारी लड़की के साथ सभी लोगों ने बलत्कार कर दिया है अगर उसने भागने का प्रयास किया तो फांसी के फंदे लटका कर मार डालेंगे इस लिए समझौता कर लो जो हो गया सो हो गया। पीड़ित मलखानसिंह का आरोप है कि घटना की रिपोर्ट दर्ज करवाने के लिए चुरखी थाने गया तो पुलिस ने कोरे कागज पर हस्ताक्षर करवा लिए मगर घटना की रिपोर्ट दर्ज नहीं की।प्रार्थी को सुबह ही पोस्टमार्टम हाउस लाये और प्रार्थी और गांव वालों से एक छपे कागज पर हस्ताक्षर करवा लिए। पीड़ित परिवार के लोगों ने एसपी से न्याय की गुहार लगाते हुए हत्यारोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही की मांग की है। इस दौरान जालौन-उरई क्षेत्र से सपा के टिकट पर चुनाव लड़ चुके महेंद्र कठेरिया, सपा नगर अध्यक्ष वेदप्रकाश यादव, सपा नेता शबीउददीन सहित आदि नेता भी मौजूद रहे।

× How can I help you?