प्राइवेट क्लीनिक चला रहे सरकार फार्मेसिस्ट के इंजेक्शन से बालिका की मौत


मृतक बालिका के पिता ने डीएम को शिकायती पत्र देकर लगाई न्याय की गुहार

उरई (जालौन)(गोविंद सिंह दाऊ):-। विकास खण्ड रामपुरा क्षेत्र के ग्राम उदोतपुरा जागीर निवासी 16 वर्षीय बालिका की तबियत खराब होने पर सरकारी फार्मेसिस्ट ने अपनी प्राइवेट क्लीनिक पर इंजेक्शन लगाने से मौत होने का आरोप लगाते हुए मृतक बालिका के पिता ने गांव के लोगों के साथ मिलकर सिटी मजिस्ट्रे को शिकायती पत्र देकर फार्मेसिस्ट के ऊपर मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही की मांग की है।
रामपुरा विकास खण्ड क्षेत्र के ग्राम उदोतपुरा जागीर निवासी गजेन्द्र सिंह पुत्र बाबूराम ने सिटी मजिस्ट्रेट को शिकायती पत्र देते हुए बताया है कि उसकी 16 वर्षीय पुत्री राखी को हल्का बुखार व पेट दर्द होने पर वह इलाज के लिए रविन्द्र सिंह चंदेल जो कि सरकारी अस्पताल सीएचसी एवं सीएचसी नदीगांव में फार्मेसिस्ट के पद पर नौकरी करता है और कस्बा रामपुरा में प्राइवेट तौर अपना क्लीनिक भी चला रहा है। जिसको 26 जुलाई को दिखाया था जिसने इंजेक्शन के दो चढ़ाई और गोलियां देते हुए दूसरे दिन आने के लिए कहा। पीड़ित का कहना है 27 जुलाई को वह अपनी पुत्री को क्लीनिक पर ले गया जहां पर उपचार के दौरान उसकी तबीयत बिगड़ गयी और वह अचेत होती चली गयी जिसके हाथ पैर ठंडे पड़ने लगे तो फार्मेसिस्ट ने रामपुरा सीएचसी अस्पताल भेज दिया जहां डाक्टर ने जांच आदि और 108 एम्बुलेंस के द्वारा जिला अस्पताल के लिए रिफर कर दिया जिसकी रास्ते में ही मौत हो गयी। मृतक बालिका के पिता ने जिलाधिकारी से मांग की है कि उक्त फार्मेसिस्ट के खिलाफ विभागीय कार्यवाही करने के साथ ही मुकदमा दर्ज करवाया जाये जिससे पीड़ित को न्याय मिल सके। ज्ञापन देते समय मनोज दिवाकर बुंदेलखंड प्रभारी गाडगे युथ ब्रिग्रेड, अजय गौतम जिला महासचिव एससीएसटी सपा भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

× How can I help you?