A2Z News UP

खबर वहीं जो सत्य हो

प्रसव पीड़ित महिलाओं ने लगाया अल्ट्रासाउंड में डा. पर वसूली का आरोप


सरकारी महिला अस्पताल का हाल बेहाल
० डाक्टर व कर्मचारी मिलकर महिलाओं से ऐंठ रहे रुपये

उरई (जालौन)(गोविन्द सिंह दाऊ):- प्रदेश की भाजपा सरकार ने बहुत पहले जनपद के हर सरकारी चिकित्सालय में अल्ट्रासाउंड की निशुल्क ब्यवस्था कर रखी है। जिससे जिला महिला अस्पताल आने वाली प्रसव पीड़ित गरीब महिलाओं का अल्ट्रासाउंड निशुल्क हो सके। इसके बाद महिला जिला अस्पताल में अल्ट्रासाउंड कक्ष में बैठे डाक्टर गौरव दुवे वहां पर तैनात गुर्गों के माध्यम से अल्ट्रासाउंड करवाने के लिए आने वाली प्रसव पीड़ित महिलाओं से तीन सौ रुपये की वसूली खुलकर की जा रही है यह आरोप अल्ट्रासाउंड कक्ष के बाहर अपने नम्बर आने का इंतजार कर रही महिलाओं या उनके साथ आये परिजनों ने खुलकर लगाया है। वैसे भी डा. गौरव दुवे जब पुरुष जिला अस्पताल के अल्ट्रासाउंड कक्ष में बैठते थे तब भी वह बगैर शुल्क के किसी का अल्ट्रासाउंड नहीं करते थे और काफी चर्चा में भी रहे। अब तो महिला चिकित्सालय में कोरोना काल के दौरान प्रसव पीड़ित महिलाओं से अल्ट्रासाउंड के नाम पर तीन सौ रुपये अपने गुर्गों के माध्यम से खुलकर वसूले जाने की चर्चाएं जोरों पर है।जबकि सरकार द्वारा अल्ट्रासाउंड को सरकारी फीस मुक्त रखा गया है। आज बुधवार को पत्रकारों की टीम महिला अस्पताल के अल्ट्रासाउंड कक्ष के बाहर देखा तो वहां पर मौजूद विकलांग महिला सीमा निवासी डूडा कालौनी लहारियापुरवा उरई ने बताया कि वह अपनी पुत्री प्रियंका का अल्ट्रासाउंड करवाने आई है जिससे तीन सौ रुपये देने की मांग की जा रही है जबकि वह विकलांग और गरीब महिला है। इसी प्रकार शहर के मोहल्ला शांतिनगर निवासी कल्याण वर्मा पुत्र दयाराम ने आरोप लगाते हुए बताया है कि वह अपनी पत्नी वंदना वर्मा का अल्ट्रासाउंड करवाने के लिए आया है जिसके एवज में गेट पर तैनात चंद्रशेखर नामक कर्मचारी पहले तीन सौ रुपये देने की मांग कर रहा है। अस्पताल में मौजूद पीड़ित लोगों ने इस मामले की शिकायत जिलाधिकारी से लेकर सीएमओ किये जाने की बात कही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *