सोशल डिस्टेंस रखते हुए सादगी से मनाया गया ब्राह्मण महासभा स्थापना दिवस



उरई ( जालौन)(गोविंद सिंह दाऊ):-। अन्तर्राष्ट्रीय ब्राह्मण महासभा स्थापना दिवस समारोह बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है परन्तु इस वर्ष कोरोना के चलते समारोह काफी कम संख्या में उपस्थित विप्र समाज के लोगों ने सोशल डिस्टेंस रखते हुए बहुत ही सादगी के साथ मनाया।
आज का समारोह ब्राह्मण एकता दिवस की थीम पर सम्मन हुआ जिसमें उपस्थित वक्ताओं ने अपने अपने विचार प्रकट किए।
सर्व प्रथम महासभा संरक्षक पं अशोक बाजपेई ने कहा कि आज ब्राह्मण समाज को एकजुट होने की आवश्यकता है क्योंकि अन्य समाज को देखते हुए ब्राह्मण समाज में एकता बहुत कम है जिसके चलते दिनों दिन समाज की गरिमा ब्राह्मण का सम्मान गिर रहा है भारी संख्या में ब्राह्मण वर्ग की हत्या में हो रही है किसी भी राजनीतिक दल में ब्राह्मण समाज की भागीदारी भी नगण्य है।हर जगह ब्राह्मणों को सताया जा रहा है उनकी संपत्ति को हड़पने के सणयंत्र हो रहे हैं। यदि इन सबके पीछे के कारणों पर विचार किया जाय तो एक ही कारण सामने आता है वो है समाज की आपसी फूट ।पर अब समय आ चुका है कि हमें अपने सम्मान आपनी सुरक्षा के लिए एक जुट होकर संघर्ष करना ही होगा।
महासभा संरक्षक डा, बृजगोपाल द्विवेदी ने कहा ब्राह्मण समाज को संगठित करने के प्रयास बहुत पहले से किए जा रहे हैं पर सफलता नहीं मिली परंतु पिछले वर्ष जनवरी में राजू पाठक के नेतृत्व में ब्राह्मण समाज एकत्र हुआ और आज जो स्थिति है वो प्रशंसनीय है आज कालपी ब्राह्मण समाज की एकजुटता अन्य जिलों के लिए उदाहरण है। इसके लिए उनके सभी साथियों को बधाई देते हैं। पंडित ओम प्रकाश शर्मा ने कहा आज बहुत अच्छा लगता है जब ब्राह्मण समाज के युवाओं को परशुराम सेना के रूप में समाज के हर सुख दुख में खड़ा पाता हूं। अगर इसी तरह सारे देश में ब्राह्मण समाज एक होता है तो हम अपने सम्मान को पुनः स्थापित करने में सफल होंगे।
कार्यक्रम के अगले वक्ता के रूप में पू्र्व वार संघ अध्यक्ष वरिष्ठ अधिवक्ता पं राम कुमार तिवारी ने सर्व प्रथम महासभा के नव नियुक्त विधि प्रकोष्ठ नगर अध्यक्ष पं रवि तिवारी एडवोकेट को बधाई और शुभकामनाएं दी और कहा कि ब्राह्मण समाज के युवाओं के कंधों पर समाज की एकता और ब्राह्मण समाज के सम्मान की रक्षा का भार है जिसके लिए उन्हें ब्राह्मण धर्म का पालन करते हुए अपनी पहचान बनाने की आवश्यकता है।
पंडित ओम प्रकाश शर्मा ने कहा कि आज युवा विप्र समाज पूरी तरह से जाग्रत हो चुका है और परशुराम सेना रुपी संगठन का विस्तार भी किया है तथा समाज के हर सुख दुख में सहभागी हों रहे हैं सभी बधाई के पात्र हैं।
नगर अध्यक्ष पं राजू पाठक ने कहा आज संगठन जिस तरह विस्तृत रूप ले रहा है उससे समाज के वरिष्ठ विप्र बन्धुओं का आशीर्वाद तथा युवाओं का सहयोग प्रमुख हैं और उम्मीद करते हैं कि इसी तरह मिलता रहेगा तथा भविष्य में ब्राह्मण समाज जिस सम्मान का अधिकारी है उसे प्राप्त कर लेगा।
आज के इस पावन अवसर पर उपस्थित सभी विप्र जनों का ह्रदय से आभार व्यक्त करता हूं।
परशुराम सेना अध्यक्ष आदर्श मिश्रा ने कहा कि सेना का विस्तार वार्ड स्तर पर किया जा रहा है जिसमें सभी युवा साथियों से सहयोग की अपील करते हैं। इसी तरह पं हरिश्चंद्र दीक्षित बापू पं राम पाण्डेय पं अवधेश बाजपेई परशुराम सेना मंहामत्री विवेक तिवारी बजरंगदल जिला सह संयोजक दीपक शर्मा , सभासद दिलीप पाठक पूर्व सभासद कल्लू शुक्ला मीडिया प्रभारी मनोज पाण्डेय , बट्टू महाराज ने भी अपने विचार प्रकट किए।
कार्यक्रम के अंतिम चरण में विधि प्रकोष्ठ के नव नियुक्त नगर अध्यक्ष पं रवि तिवारी का माल्यार्पण कर स्वागत किया गया। अंत में कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे ब्राह्मण महासभा के मार्ग दर्शक पूज्य संत राम करन दास जी ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी भटक गई है अपने संस्कारों अपनी कर्मों से ब्राह्मण कोई जाति नहीं एक धर्म है जिसका पालन करना होता है अगर हम अपने धर्म के अनुसार चलकर नियम संयम का पालन करते हैं तो दुनिया की कोई शक्ति ब्राह्मण को अपमानित करने का दुस्साहस नहीं कर सकती। श्री महाराज जी ने ब्राह्मण समाज पर हमला करना वालों को सावधान करते हुए स्पष्ट कहा कि हिन्दूृ समाज रूपी वृक्ष की जड़ है ब्राह्मण यदि किसी वृक्ष की जड़ पर कुठाराघात किया गया तो सारा वृक्ष ही नष्ट हो जायेगा। युग बदल चुका है माया में जकड़े प्राणी धर्म धर्म-कर्म को भूलते जा रहे हैं गौ ब्राह्मण संत को अपमानित किया जा रहा है जिसके चलते लोगों में तमाम प्रकार को आपत्तियों का सामना करना पड़ रहा है । इसे संभालने के लिए ब्राह्मण समाज को आगे आना होगा। कार्यक्रम में उपस्थित समाज के सभी विद्वत जनों को साधुवाद युवा वटुकों को शुभाशीष देता हूं भगवान लक्ष्मी नारायण सबका कल्याण करें।
लाकडाउन के चलते कम संख्या में ही विप्र बन्धुओं ने सहभागिता की जिनमें प्रमुख रूप से ,सज्जन त्रिपाठी, प्रशान्त शुक्ला,दीपू तिवारी,सुरेन्द्र मिश्रा,शैलेन्द्र दीक्षित,सन्दीप पाण्डेय जग्गू, रोहणी शर्मा,बटटू महाराज,अभय शुक्ला,रिंकू शुक्ला,अरविन्द कुमार द्विवेदी,सुमित अवस्थी,राम पाण्डेय,श्याम पाण्डेय,शिवम शर्मा,हर्ष वर्धन पाठक,अन्नू तिवारी,ज्ञानू तिवारी,राहुल त्रिपाठी,सुनील शुक्ला,शैलेन्द्र पाठक,आनन्द दीक्षित,देवांश तिवारी,देवा तिवारी,अखिलेश अवस्थी,मनोज पाठक,गुड्डू मिश्रा आदि विप्र बन्धु उपस्थित थे।बैठक का संचालन महासभा के महामंत्री ज्ञानेन्द्र ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

× How can I help you?