तहसील स्तर पर प्रर्दशन कर राज्यपाल को सम्बोधित सौपा ज्ञापन

उरई (जालौन)(गोविंद सिंह दाऊ):- समाजवादी पार्टी के प्रदेशीय आवाहन पर भाजपा सरकार की नीतियों के विरोध में सड़कों पर सपाई उतरे और सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी की। जिला मुख्यालय पर हुए प्रर्दशन का नेतृत्व सपा जिलाध्यक्ष नबाबा सिंह यादव ने किया। इस दौरान सपा महिला जिलाध्यक्ष माण्डवी निरंजन ने दर्जनों महिलाओं के साथ प्रर्दशन में भागीदारी निभाई।
समाजवादी पार्टी के कार्यकताओं ने जनपद जालौन की तहसीलों पर भाजपा सरकार के विरोध में प्रर्दशन कर राज्यपाल को सम्बोधित 9 सूत्रीय ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को सौपा। जिसके माध्यम से मांग की गयी कि अतिवृष्टि, ओलावृष्टि तथा बाढ़ से नष्ट फसल के लिए किसानों की क्षतिपूर्ति का तत्काल प्रबंध हो तथा अपराध की रोकथाम हो खासकर महिलाओं और बच्चियों के साथ दुष्कर्म की घटनाओं पर पुलिस प्रशासन को प्रभावी एवं सख्त कार्यवाही के आदेश दिये जायें, अपराधियों की जमानत न हो इसके लिए अभियोजन पक्ष की तस्दीक की जाये, किसानों को समय पर खाद-बीज उपलब्ध करवाया जाये जेल में बंद समाजवादी छात्र सभा के नेताओं को जल्द रिहा किया जाये सहित अन्य मांगों को शामिल किया गया है। धरना प्रर्दशन में जिला महासचिव वीरेन्द्र यादव, पूर्व विधानसभा प्रत्याशी महेंद्र कठेरिया, अनुसूचित जनजाति प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष जीवन बाल्मीकि, महेश विश्वकर्मा, पूर्व नगर अध्यक्ष भानूप्रकाश वर्मा, नगर अध्यक्ष वेदप्रकाश यादव, नगर महासचिव शबीउददीन, नगर उपाध्यक्ष कयूम करीमी, विधानसभा उरई अध्यक्ष भानूप्रकाश राजपूत, विधानसभा महासचिव संतोष कोरी बीनू, जिला कोषाध्यक्ष जमालुद्दीन पप्पू, प्रताप यादव, सुरेन्द्र यादव बजरियां, महिला प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष माण्डवी निरंजन, रेखा परिहार, पूर्व नगर अध्यक्ष शफीकुर्रहमान कश्फी, शादाब अली जिला महासचिव छात्रसभा, सपा नेत्री कुसुम सक्सेना, पूर्व जिलाध्यक्ष वीरपाल सिंह यादव दादी, महेश द्विवेदी सर, जयशंकर द्विवेदी, मुईनुद्दीन मिर्जा सहित दर्जनों सपाजन मौजूद रहे। उधर सपा के प्रर्दशन को देखते हुए कलेक्ट्रेट परिसर के अंदर और बाहर भारी पुलिस बल मौजूद रहा जिससे प्रर्दशनकारी सपाईयों को कलेक्ट्रेट के अंदर प्रवेश नहीं करने दिया गया।