उरई (जालौन)(गोविंद सिंह दाऊ):- कालपी तहसील के कस्बा सिरसा कलार के सरकारी अस्पताल प्रसव के दौरान गर्भवती महिला ने नवजात शिशु को जन्म देते ही दम तोड़ दिया है जबकि परिजनों ने अस्पताल स्टाफ के खिलाफ सही देखभाल लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है जिसमें स्वास्थ्य कर्मियों की लापरवाही से मीनू 20 वर्ष पत्नी सागर ग्राम बाबरपुर जनपद औरैया की प्रसव के दौरान मृत्यु हो गई। मीनू के पिता भीम दास निवासी भिटारी ने बताया की रात में लगभग 2 बजे मीनू को सिरसा कलार के अस्पताल में लाया गया। जहां पर नर्स और डॉक्टर ने परिजनों को बताया कि बच्चा सुबह 7:00 बजे तक हो जाएगा लेकिन 7:00 बजे तक बच्चा ना होने पर भीमदास व परिजनों ने डॉक्टर से फिर बात की जिसके दौरान लगभग 9:00 बजे तक बच्चा हो गया। जिसके बाद नर्स ने बताया कि महिला की हालत ज्यादा खराब है जिसे कुछ इंजेक्शन और बोतल लगेंगे जिसके 900 रुपये भीमदास से लिए तथा भीमदास से कहा गया कि महिला को एंबुलेंस के द्वारा उरई जल्द से जल्द पहुंचाओ । परिजनों ने जब मीनू को अस्पताल के अंदर जाकर देखा तो मीनू की मृत्यु हो चुकी थी। जिसकी सूचना भीमदास ने सिरसा कलार थाना पुलिस को दी मौके पर पहुंची थाना पुलिस ने मामले को संज्ञान में लिया।