21 C
Jālaun
Monday, January 18, 2021
Home उत्तर प्रदेश खाद्य विभाग की मिलीभगत से चल रहा अबैध मिश्रित गुटखे का कला...

खाद्य विभाग की मिलीभगत से चल रहा अबैध मिश्रित गुटखे का कला कारोबार

अगर खाद्य विभाग की नही है मिलीभगत तो जगह पता होने के बाद भी क्यों नही हो रही कार्रवाई?
० मिश्रित गुटखे का मकड़जाल जनपद जालौन में ही नही पूरे बुंदेलखंड में फैला

उरई (जालौन)(गोविंद दाऊ):- प्रशासन के हर विभाग की आपको आए दिन एक ना एक लापरवाही देखने को मिलेगी और उन लापरवाही से कहीं ना कहीं जनता को परेशानी ही मिलती है चाहे शासन के कड़े निर्देशों हो, या फिर कोर्ट के आदेश लेकिन प्रशासन की लापरवाही के आगे किसी के फरमान नहीं चलता है अब हम यह सब इसलिए कह रहे क्योंकि सुप्रीम कोर्ट के आदेश की प्रशासन के आला अधिकारी सरेआम धज्जियां उड़ा रहे सुप्रीम कोर्ट का एक आदेश जारी हुआ था कि बाजार में बिकने वाले अबैध तम्बाखू युक्त मिश्रित गुटखे से कैंसर जैसे कई गंभीर बीमारियां होती है और मिश्रित गुटखा देश व प्रदेश में बैन है बाजारों में कही भी मिश्रित गुटखा नहीं बिकेगा जो बेचेगा तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई व जुर्माना के अलावा जेल तक की भी कार्यवाही हो सकती है लेकिन जनपद जालौन के अंदर खुलेआम अबैध मिश्रित तम्बाखू युक्त गुटखा खुलेआम बन और बिक रहा है इसके बावजूद ना तो किसी अबैध कारोबारी को जेल हो रही ना किसी के ऊपर जुर्माना लगाया जा रहा क्योंकि इसमें पूरा सहयोग खाद्य विभाग का है अगर खाद्य विभाग का सहयोग नहीं है तो गुटखे का नाम व मालिक का नाम और जगह मालूम होने के बाद भी शासन के आला अधिकारी अपने बड़े-बड़े एसी वाले कमरों से निकल कर उनके ऊपर कार्रवाई क्यों नहीं कर रहे है और उनके ऊपर जुर्माना क्यों नहीं लगाया जा रहा है तथा उन्हें जेल क्यों नहीं भेजा जा रहा है मिश्रित गुटखा पर प्रतिबिंब क्यों नहीं लग रहा है? घटिया किस्म का गुटखा बनाने वालों के पास ना तो कोई लाइसेंस है और ना ही कोई मानक तय करके गुटखा बनाते स्वाद बढ़ाने के लिए हानिकारक केमिकल का भी प्रयोग किया जाता है और घटिया किस्म की सुपारी तम्बाकू और कत्था का भी प्रयोग होता है जिससे कई गंभीर बीमारियां भी होती पर इन सब से प्रशासन के आला अधिकारियों को क्या लेना देना उनकी जेब गर्म हो रही मिश्रित गुटखे की चपेट में ज्यादातर युवा पीढ़ी है तब भी प्रशासन के आला अधिकारी इस पर ध्यान नहीं दे रहे।

इनसेट——
एक नहीं कई है अबैध तम्बाखू युक्त मिश्रित गुटखे
उरई। सुप्रीम कोर्ट की कड़े निर्देशों के बाद मिश्रित गुटके कुछ दिन के लिए तो बंद हुए लेकिन उनका अवैध कारोबार ज्यादा दिन तक बंद ना रह सका अवैध कारोबारियों ने फिर से मिश्रित गुटके को धीरे धीरे बनाना शुरू कर दिया और अपने मकड़जाल से पूरे जनपद में फैला दिया जनपद में कई मिश्रित गुटखे जैसे राज, यसराज, महाकालेश्वर, बर्षा, श्री पारस, बांके बिहारी, श्री वीआईपी, बाबा, शम्भू श्री, गगन, तिरंगा, राधिका, सुपर श्री, वेनाम, कई अबैध तम्बाखू युक्त मिश्रित गुटखे जनपद जालौन के शहर से लेकर गांव तक आपको मिल जाएंगे मिश्रित गुटखे के थोक कारोबारी अधिकारियों की आंखों में धूल झोंक कर पूरे शहर में गुटखा बेखौफ होकर बेच रहे उन्हें किसी प्रशासन का डर नहीं और ना ही प्रशासन के आला अधिकारी उनके खिलाफ कोई कार्रवाई कर रहे।

Shteesh Bhadauriyahttp://a2znewsup.com
A2Z NEWS UP , is a trust-funded ethical journalism platform, which offers one National news channel in Hindi and one regional vertical in Uttar Pradesh. We provide robust and high quality news from every corner of India and across the globe, powered by nearly 1000 news professionals. A2Z NEWS UP . in is the online platform of the network, which delivers hard, accurate news along with 24×7 interactivity on a variety of Mobile App-and multimedia-enabled platforms. We give you the unique positioning to understand the ‘Indian story’ from an Indian viewpoint but peppered sufficiently with global perspectives.A2Z NEWS UP along with http://a2znewsup.com/ delivers original reporting and sharp opinion from big personalities in the arenas of politics, pop-culture, sports, Indian news and more from its world-class head quarters in the National Capital Region of India. Uttar pradesh ,Bundelkhand and Uttarakhand first 24×7 live Hindi news channel . Our Leader Mr. Shteesh Bhadauriya is Managing Director and holds the position of CHAIRMAN of A2Z NEWS UP FOR Mr. Bhadauriya has more than 8 years of experience in the print media & Electronic Media industry. Besides being the Karni Sena Bharat - National Media Incharge And U.P. STATE PRESIDENT NEWS24 EXPRESS OurVision 24×7 News reporting of All INDIA Anytime News access to global audience via Mobile App, Laptop, Tablet or TV To lead and head often ignored voices and views; Embracing and establishing links of cultural understanding; Motivating human beings of various races and creeds
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

× How can I help you?