राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की आज पुण्यतिथि है. साथ ही साथ शहीद दिवस भी है. इस मौके पर देशभर में बापू और शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की जा रही है. वहीं, देश के कई बड़े नेताओं ने भी उन्हें श्रद्धांजलि देकर नमन किया है. बता दें कि इस साल बापू की 73वीं पुण्यतिथि है.

पीएम मोदी ने ट्वीट कर बापू को श्रद्धांजलि अर्पित की है. इसके अलावा उन्होंने शहीदों को भी याद कर उन्हें नमन किया है. उन्होंने ट्वीट किया, “बापू की पुण्यतिथि पर उन्हें सादर नमन. उनके दिखाए गए मार्गों से करोड़ों लोगों को जीवन में आगे बढ़ते रहने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा.” उन्होंने शहीद दिवस के मौके पर शहीदों को याद कर लिखा, “उन शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं जिन्होंने भारत की स्वतंत्रता के लिए अपने प्राणों की आहुति दी.”

राष्ट्रपति कोविंद ने बापू को दी श्रद्धांजलि

बापू की पुण्यतिथि पर देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की. उन्होंने ट्वीट किया, “मैं कृतज्ञ राष्ट्र की तरफ से राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं. हमें शांति, अहिंसा, सादगी, साधनों की पवित्रता और विनम्रता के उनके आदर्शों का पालन करना चाहिए.” राष्ट्रपति कोविंद ने आगे लिखा, “आइए, इस मौके पर हम उनके बताए गए रास्ते पर चलने का संकल्प लें.”

गृह मंत्री अमित शाह ने बापू को किया नमन

वहीं आज गृह मंत्री अमित शाह ने भी बापू को याद कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है और ट्वीट किया है.

राहुल गांधी ने बापू को किया याद 

बापू की पुण्यतिथि पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्वीट किया. उन्होंने एक वीडियो पोस्ट कर बापू को श्रद्धांजलि देते हुए उनका एक कोट शेयर किया, उन्होंने लिखा, “सत्य लोगों के समर्थन के बिना भी खड़ा रहता है, वह आत्मनिर्भर है.”

सीएम केजरीवाल ने बापू को किया नमन

बापू को श्रद्धांजलि देते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लिखा, “सत्य, अहिंसा, धैर्य, साहस और सत्याग्रह. बड़ी से बड़ी शक्तियों को अप्रभावी करने वाले गांधी जी के ये सिद्धांत आज भी उतने ही प्रासंगिक हैं, जिनसे अधिकारों की कोई भी लड़ाई जीती जा सकती है. पूज्य बापू जी के स्मृति दिवस पर उन्हें कोटि कोटि नमन.”

ये भी पढ़ें 

Mahatma Gandhi Death Anniversary: कैसे हुई महात्मा गांधी की हत्या, उस दिन क्या-क्या हुआ था?

अमित शाह का बंगाल दौरा रद्द, किसान आंदोलन और इजरायल दूतावास के पास ब्लास्ट के चलते लिया फैसला



Source link