नई दिल्ली:  दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने रविवार को कहा कि कोरोना वायरस टीकाकरण के लिए कुछ लोग आखिरी समय में नहीं पहुंचे. साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार किसी को अनिवार्य रूप से टीका लगवाने के लिए नहीं कह सकती.

जैन ने कहा कि दिल्ली में टीकाकरण केंद्रों की संख्या 81 से बढ़ाकर जल्द ही 175 की जाएगी. उन्होंने कहा कि दिल्ली में शनिवार को कोविड-19 टीकाकरण के पहले दिन कुल 4,319 स्वास्थ्य कर्मियों ने टीका लगवाया जो टीकाकरण के लिए पंजीकरण कराने वाले कर्मियों का 53.3 प्रतिशत हैं.

जैन ने कहा कि पूरे देश में इसी तरह की स्थिति रही और पहले दिन पंजीकरण कराने वालों में से केवल करीब 50 प्रतिशत ने टीका लगवाया.

कोविड-19 टीकाकरण अभियान के पहले दिन शनिवार को दिल्ली में जिन स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना वायरस का टीका लगाया गया, उनमें एईएफआई (टीकाकरण के बाद प्रतिकूल प्रभाव) का एक ‘गंभीर’ और 51 ‘मामूली’ मामले सामने आए.

यह भी पढ़ें:

दिल्ली की सैर के लिए टूरिस्टों को मिलेगी ‘किराये की बाइक’, सरकार बना रही योजना



Source link