उरई। 72वें गणतंत्र दिवस समारोह का मुख्य आयोजन पुलिस लाइन में किया गया। जिलाधिकारी इस बार गणतंत्र समारोह के मुख्य अतिथि रहे। उन्होने पुलिस परेड की सलामी लेने के बाद अपने सम्बोधन में लोगो से अच्छे नागरिक के उत्तरदायित्व का निर्वाह कर देश के संविधान और लोकतंत्र को मजबूत करने की अपील की ।
इसके पहले जिलाधिकारी कार्यालय पर मंगलवार को प्रातः 8.30 बजे कलेक्टेªट भवन पर तिरंगा लहराकर जिलाधिकारी डा0 मन्नान अख्तर ने भारतीय गणतंत्र का संकल्प दोहराया । उन्होने कलेक्टेªट परिसर में स्थित प्रदेश के पहले मुख्यमंत्री गोविन्द बल्लभ पंत की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया । तदोपरांत कलेक्टेªट सभाकक्ष में महात्मा गांधी और बाबा साहब अम्बेडकर के चित्रो पर माल्यार्पण के साथ उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किये । इस दौरान जिलाधिकारी ने अपने सम्बोधन में कहा कि सभी को अपने दायित्वांे का निष्ठा एवं ईमानदारी से निर्वाह करना चाहिये। उन्होने अफसरों से कहा कि जो कार्य उन्हें सुपुर्द होते है वे ससमय पूर्ण कर व्यवस्था को मजबूत बनाने में योगदान दे। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी डा0 प्रमिल कुमार सिंह नगर मजिस्टेªट सुनील कुमार , अतिरिक्त मजिस्टेªट कौशल कुमार , वरिष्ठ कोषाधिकारी आशुतोष चतुर्वेदी आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन ईजीएम पुष्पेन्द्र सिंह ने किया ।
पुलिस लाइन में पुलिस अधीक्षक ने जिलाधिकारी की अगवानी की । कार्यक्रम में साफा बांधकर पहुंचे जिलाधिकारी ने पुलिस अधीक्षक के साथ आसमान में गुब्बारे उठाकर शान्ति और उल्लास का सन्देश दिया । उन्होने खुली जीप में पुलिस परेड का निरीक्षण किया । इस अवसर पर जिलाधिकारी ने विशिष्ट कार्याे के लिये कई पुलिस अधिकारियों को सम्मानित भी किया।





Source link