नई दिल्ली: म्यांमार में तख्तापलट के बाद हो रहे विरोध प्रदर्शनों में कमी का कोई संकेत नजर नहीं आ रहा है. इसके बाद सोमवार को सैन्य सरकार ने दो बड़े शहरों में कर्फ्यू लगा दिया और पांच से ज्यादा लोगों के एक जगह पर इकट्ठा होने पर पाबंदी लगा दी.

म्यांमार में यांगून और मांडले के लिए यह आदेश जारी किया है. इसके तहत जनता से जुड़ी पाबंदियां भी लगाई गई है. अन्य क्षत्रों के लिए भी ऐसे ही आदेश की संभावनाए हैं. आदेश के तहत पांच से ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी रहेगी और गाड़ियों की रैली पर भी रोक लगाई गई है.

क्या है कर्फ्यू का समय?

दोनों शहरों में रात आठ बजे से तड़के चार बजे तक कर्फ्यू लागू रहेगा. ये आदेश अगले नोटिस तक प्रभावी रहेंगे. आदेश में कहा गया है कि कानून का उल्लंघन करने वाले लोगों के गैरकानूनी कदमों के जवाब में यह फैसला किया गया है. दरअसल, म्यांमार में हुए तख्तापलट के खिलाफ सोमवार को प्रदर्शन तेज हो गया और देश के कई और हिस्सों में फैल गया.

वहीं पुलिस ने म्यांमार की राजधानी में सैंकड़ों प्रदर्शनकारियों पर पानी की बौछारें की, जो सेना से निर्वाचित अधिकारियों के हाथों में सत्ता सौंपने की मांग कर रहे थे. इसके अलावा देश के उत्तर, दक्षिणपूर्वी और पूर्वी क्षेत्रों से भी प्रदर्शन की खबर है.

यह भी पढ़ें:
Myanmar Martial Law: तख्तापलट के विरोध प्रदर्शन के बीच म्यांमार के 7 शहरों में सेना ने लागू किया मार्शल लॉ



Source link