कार्यक्रम के तहत विभिन्न विद्यालयों में निकाली जायेगी रैली

उरई (जालौन)(गोविंद सिंह दाऊ):- उत्तर प्रदेश शासन के आदेशानुसार 04 फरवरी , 2022 तक की अवधि में चौरी- चौरा शताब्दी महोत्सव का आयोजन किया जाना हैं जिसके क्रम में जनपद में चौरी – चौरा शताब्दी महोत्सव का भव्य रूप से शुभारम्भ किया गया जिसमें विभिन्न विद्यालयों द्वारा प्रातः प्रभात फेरी निकाली गयी। मुख्य कार्यक्रम ग्राम पंचायत हदरूख (शहीद स्थल) ब्लाक कुठौन्द तहसील जालौन में आयोजित किया गया जिसमें मुख्य अतिथि राज्य मंत्री उच्च शिक्षा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग उ. प्र. सरकार एवं जनपद प्रभारी मंत्री श्रीमती नीलिमा कटियार की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। प्रभारी मंत्री द्वारा सर्वप्रथम गार्ड आफ आनर के पश्चात सम्मानित अतिथिगण द्वारा बुके देकर सम्मानित किया गया तत्पश्चात प्रभारी मंत्री जी द्वारा शहीद स्थल पर शहीद राजवीर सिंह सेंगर के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर श्रृद्धासुमन अर्पित की। इसी क्रम में विधायक सदर गौरी शंकर वर्मा, विधायक माधौगढ़ मूलचन्द्र निरंजन, जिलाध्यक्ष रामेन्द्र सिंह वना, जिलाधिकारी डा0 मन्नान अख्तर, मुख्य विकास अधिकारी डा. अभय कुमार श्रीवास्तव, अपर जिलाधिकारी प्रमिल कुमार सिंह सहित सम्मानित जनप्रतिनिधियों द्वारा शहीद के चित्र पर माल्यर्पण कर श्रृद्धासुमन अर्पित किया। इसी कार्यक्रम के अन्तर्गत विद्यालय के बच्चों द्वारा देश भक्ति पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्ततु किये गये। कार्यक्रम के दौरान प्रभारी मंत्री जी द्वारा शहीद के परिजनों श्रीमती श्याम दुलारी पत्नी स्व. शहीद हवलदार को साल उढ़ाकर सम्मानित किया। इसके उपरान्त लक्ष्मण सिंह नाती स्व. शहीद कपूर सिंह, जयराम प्रजापति स्व. शहीद सिपाही रामसनेही, उमा सिंह पत्नी स्व. राजवीर सिंह, उदयवीर सिंह पुत्र स्व. शहीद कपूर सिंह को विधायक सदर, विधायक माधौगढ़ एवं जिलाधिकारी द्वारा साल उढ़ाकर सम्मानित किया तत्पश्चात वन्दे मातरम् उपस्थित सभी लोगो द्वारा वन्दे मातरम् गायन प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री , विधायकगण एवं जिलाधिकारी महोदय द्वारा चौरी – चौरा शताब्दी महोत्सव के संबंध में अपने-अपने विचार प्रकट किये। उन्होने बताया कि यह कार्यक्रम पूरे वर्ष भर चलाया जायेगा जो प्रत्येक शहीद स्थल पर कार्यक्रम सम्पन्न किये जायेगे। इसके उपरान्त सूचना विभाग द्वारा एलईडी वैन के माध्यम से मा0 प्रधानमंत्री जी एवं मा0 मुख्यमंत्री जी के उद्बोधन को सुना गया । प्रधानमंत्री जी द्वारा अपने सम्बोधन में यह भी कहा कि चौरी – चौरा में जो भी हुआ वह सिर्फ एक थाने में आग लगाने की घटना नही थी इससे एक बढ़ा सन्देश अंग्रेजी हुकुमत को दिया गया इस घटना को इतिहास में सही जगह नही दी गयी है लेकिन हमें उन शहीदों को नमन करते हैं। उन्होने अपने सम्बोधन में यह भी कहा कि बजट में किसानों के लिये कई कदम उठाये गये है। मण्डी में किसानों के फायदे के लिये फसल बेचने की आजादी होगी। सरकार द्वारा लिये गये सभी फैसले किसान के लाभ का आधार बनेगे और किसानों की जमीन पर किसी की भी बुरी नजर नही पड़ेगी। इस अवसर पर प्रधानमंत्री जी ने पाँच रूपये का ‘चौरी – चौरा शताब्दी महोत्सव‘ का डाक टिकट जारी किया। उन्होने कहा कि देश को कभी चौरी – चौरा की घटना नही भूलना चाहिये। हमारे वीर सपूतों ने इस देश को आजाद कराने में अपना बलिदान किया हैं। कार्यक्रम में सामूहिक राष्ट्रगान प्रस्तुत किया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी डा0 मन्नान अख्तर द्वारा प्रभारी मंत्री एवं विधायकगण तथा अन्य सम्मानित जनप्रतिनिधियों का आभार व्यक्त करते हुये कार्यक्रम को सकुशल सम्पन्न कराये जाने पर अधिकारियों तथा उपस्थित जनसमूहों का भी धन्यवाद ज्ञापित किया। अन्त में मा0 प्रभारी मंत्री जी द्वारा खेलकूद को बढ़ावा देने के उददेश्य से शहीद स्थल परिसर में कबड्डी का भी आयोजन किया गया। इसी प्रकार जनपद के अन्य तहसीलों में भी चौरी – चौरा शताब्दी महोत्सव के अवसर पर शहीद स्थलों पर कार्यक्रम सम्पन्न कराये गये।इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डा. यशवीर सिंह, मुख्य विकास अधिकारी डा. अभय कुमार श्रीवास्तव, अपर जिलाधिकारी प्रमिल कुमार सिंह, उप जिलाधिकारी जालौन गुलाब सिंह, परियोजना निदेशक डीआरडीए शशिकान्त द्विवेदी, जिला विद्यालय निरीक्षक भगवत पटेल सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारीगण मौजूद रहे।