पीड़ित ने डीएम को शिकायती पत्र देकर उठाई कार्यवाही की मांग

उरई (जालौन)(गोविंद सिंह दाऊ):-कस्बा जालौन के सरकारी अस्पताल में तैनात चिकित्सक ने मरीज और उसके तीमारदार के साथ गालीगलौज करते हुए अभद्रता कर डाली और उसे चिकित्सालय से भगा दिया। पीड़ित ने आज शनिवार को कलेक्ट्रेट पहुंच कर जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देते हुए डाक्टर और स्टाफ पर कार्यवाही की मांग उठाई है।
जालौन तहसील के ग्राम सिकरीराजा निवासी धर्मेंद्र सिंह पुत्र पहलवान सिंह जिलाधिकारी को सम्बोधित शिकायती पत्र अतिरिक्त मजिस्ट्रेट को देते हुए बताया है कि उसके 70 वर्षीय पिता पहलवान सिंह का एक पैर कटा हुआ है जो चलने फिरने में असहाय है जिन्हें डायबिटीज और वीपी के मरीज है जिन्हें उपचार के लिए आये दिन जालौन के सरकारी अस्पताल में लाना पड़ता है। पीड़ित का आरोप है कि 19 फरवरी अस्पताल वीपी की जांच करवाने आया और अस्पताल में तैनात डा. मुकेश राजपूत से वीपी जांच करने के लिए कहा तो वह अभद्र भाषा पर उतर आये और गालीगलौज करते हुए अस्पताल से भगा दिया। पीड़ित ने डाक्टर व स्टाफ कार्यवाही करने की जिलाधिकारी से गुहार लगाई है।