दयाशंकर वर्मा के हौंसले पस्त, आधा दर्जन से अधिक और लगे लाइन में

उरई (जालौन)(गोविंद सिंह दाऊ):- समाजवादी पार्टी ने 2022 के आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियां अभी से तेज कर दी है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर प्रदेश सपा कार्यालय में चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों के आवेदन पत्र भी जमा होने लगे है। बताते चले कि उरई-जालौन विधानसभा सुरक्षित सीट से लगभग दस प्रत्याशी अपनी-अपनी दावेदारी पेश कर आवेदन पत्र भी सपा प्रदेश कार्यालय पर जमा कर चुके है। उरई-जालौन सुरक्षित विधानसभा सीट से युवा और तेजतर्रार नेता जो वर्तमान में सपा उरई-विधानसभा क्षेत्र के महासचिव पद पर काबिज है संतोष कोरी जीनू ने सपा प्रदेश कार्यालय पहुंच कर अपनी प्रवलदावेदारी करते हुए आवेदन पत्र भी दाखिल कर दिया है। जिससे सपा पूर्व के सदर विधायक दयाशंकर वर्मा जो उरई विधानसभा सीट अपनी दावेदारी कर चुके है। मगर युवा तेजतर्रार नेता संतोष कोरी जीनू के द्वारा इस सीट पर दावेदारी ठोक देने से पूर्व विधायक दयाशंकर वर्मा के हौंसले पस्त होते नजर आने लगे है। इतना ही नहीं संतोष कोरी जीनू ने अपनी सपा प्रदेश कार्यालय में सीट पर आवेदन पत्र जमा करने के बाद क्षेत्र में जनता और मतदाताओं से अपनी टीम के साथ सम्पर्क करना भी शुरु कर दिया है। युवा नेता संतोष कोरी जीनू ने विधानसभा से अपनी प्रत्याशिता ठोकते हुए वह अपनी पहचान बनाने एवं किसानों विरोध में केंद्र सरकार द्वारा लाये गये काले कानून के बारे में गांव-गांव पहुंच कर किसान चौपाल भी लगाकर नुकसान के बारे में जानकारी देते नजर आ रहे है और किसानों की समस्याओं को भी सुन रहे है।पार्टी सूत्रों की मानें तो उरई-जालौन विधानसभा सुरक्षित सीट से जिन अन्य लोगों ने सपा प्रदेश कार्यालय पहुंच कर आवेदन पत्र जमा किये है उनमें पूर्व प्रत्याशी रहे महेन्द्र कठेरिया, जीवन बाल्मीकि, मानसिंह वर्मा, अंकुर, रमाकांत श्रीवास, शैलेन्द्र श्रीवास सभासद के अलावा गुलाब जाटव भी शामिल है।