अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रही रही मालवी मल्होत्रा को, तब किसी ऐसे प्रभावशाली शख्स की तलाश थी जो उनकी और उन्हीं की तरह हिंसा का शिकार हुई अन्य महिलाओं की मदद कर सके. 

फाइल फोटो.





Source link