नई दिल्ली: टैक्स चोरी के मामले में फिल्ममेकर अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) और एक्ट्रेस तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) पर आयकर विभाग (IT Department) का शिकंजा कसता जा रहा है. गुरुवार देर रात तक इस मामले में रेड जारी रही. इस मामले में बीते दिन कई खुलासे हुए, जिनमें रेड के कारणों का पता चला. अब इस मामले में क्वान टैलेंट मैनेजमेंट कंपनी (KWAN Talent Management Company) का नाम भी सामने आया है. आयकर विभाग ने इनके दफ्तर में भी छापा मारा है. 

क्वान टैलेंट मैनेजमेंट कंपनी का नाम भी आया सामने 

‘फैंटम फिल्म्स’ (Phantom Films) के टैक्स चोरी मामले में लगातार तीसरे दिन यानी कि गुरुवार देर रात तक मुंबई में क्वान टैलेंट मैनेजमेंट कंपनी के ऑफिस पर आयकर अधिकारियों की रेड चलती रही. क्वान टैलेंट मैनेजमेंट कंपनी (KWAN Talent Management) के ऑफिस पर आयकर अधिकारियों की 36 घंटे रेड चली है. देर रात एक बजे 5-6 अधिकारी क्वान ऑफिस बिल्डिंग से बाहर निकलते देखे गए.

अभी खत्म नहीं हुई है रेड

सूत्रों के मुताबिक आयकर विभाग (Income Tax Department) की यह रेड अभी एक-दो दिन और चलेगी. देर रात तक चल रही इस इनकम टैक्स की रेड में अधिकारियों के साथ जया साहा भी मौजूद थीं. बता दें, जया साहा सुशांत सिंह मामले में चर्चित नाम रही हैं. जया साहा (Jaya Saha) सुशांत सिंह राजपूत की टैलेंट मैनेजर भी रह चुकी हैं. सूत्रों के मुताबिक आयकर अधिकारियों ने जया साहा (Jaya Saha) से भी 350 करोड़ की कथित गड़बड़ी और फैंटम प्रोडक्शन हाउस से हुई डील के बारे में जानकारी हासिल की है.

टैक्स चोरी और हेराफोरी का है मामला

बता दें, गुरुवार को हुई आयकर विभाग (Income Tax Department) की छानबीन में कई बातें सामने आई हैं. रेड में अब तक 350 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी और 300 करोड़ रुपये की हेराफेरी करने का खुलासा हुआ है. वहीं तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) के नाम पर 5 करोड़ की कैश रिसिप्ट रिकवर भी हुई है, जिसकी जांच जारी है. 

7 लॉकरों को किया गया सीज 

छापेमारी के दौरान 7 लॉकर्स का भी पता चला है, जिन्हें विभाग ने सीज कर दिया है. इसके अलावा फर्जी बिल से 20 करोड़ रुपये की गड़बड़ी की बात भी संज्ञान में आई है. आयकर विभाग (Income Tax Department) ने प्रेस रिलीज जारी कर कहा है कि 3 मार्च यानी बुधवार से 2 बड़े फिल्म प्रोडक्शन हाउस, एक एक्ट्रेस और मुंबई की 2 टैलेंट मैनेजमेन्ट कंपनी के ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है. छापेमारी मुंबई, दिल्ली, पुणे और हैदराबाद में कुल 28 जगहों पर की जा रही है.

ये भी है एक वजह

बता दें, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (Income Tax Department) के सूत्रों के मुताबिक फैंटम फिल्म्स (Phantom Films) ने अपने कुछ शेयर Inflated Rate पर रिलायंस एंटरटेनमेंट को बेचे थे, जिसका टैक्स भी नहीं चुकाया गया है. ये भी फैंटम फिल्म्स पर इनकम टैक्स की रेड की मुख्य वजहों में से एक है. करीब 20 दिन पहले इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (Income Tax Department) ने फैंटम फिल्म्स से जुड़े डायरेक्टर्स, एक्टर्स, प्रोड्यूसर्स, डिस्ट्रीब्यूटर्स को नोटिस भेजा था. इनमें से अधिकतर लोगों ने नोटिस का जवाब दिया था की फैंटम फिल्म कंपनी साल 2018 में डिसॉल्व हो गयी है और वो सभी अब उससे जुड़े हुए नहीं हैं. इनकम टैक्स विभाग के सूत्रों के मुताबिक IT विभाग क्रॉस चेकिंग के लिए फैंटम फिल्म्स से जुड़े ऑडिटर्स से भी संपर्क कर सकती है.

सामने आई थीं ये बात

बता दें, इससे पहले भी कई खुलासे हुए. आयकर सूत्र के मुताबिक अनुराग (Anurag Kashyap) और तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) पर आयकर छापेमारी का मूल कारण सामने आया था. बताया गया कि इस छापेमारी की वजह है अनुराग कश्यप का हाल ही में किया गया प्रॉपर्टी निवेश. अनुराग ने 16 करोड़ रुपये घर खरीदने में निवेश किए. इस घर को खरीदने में बड़ी राशि उस कंपनी के अकाउंट से दी गई, जो कंपनी अब बंद कर दी गई है. 

अब बढ़ गया है मामला

इसके साथ ही कहा गया कि तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) ने अपने घर का इन्टीरियर डिजाइन और डेकोर कराया था. इसका पेमेंट भी इसी कंपनी के खाते से किया गया. इन मामलों की वजह से ये जांच शुरू हुई, जो अब साल 2011 से वर्तमान आयकर अदायगी तक पहुंच गई है. आयकर को इस बात की जानकारी मिली है कि कंपनी के लाभ छुपाने के लिए कंपनी को बंद कर दिया गया है. फैंटम फिल्म्स (Phantom Films) से जुड़े सभी लोगों और इस कंपनी के खाते से किए गए सभी भुगतान की जांच की जा रही है.

फंक्शनल नहीं रहा ‘फैंटम फिल्म्स’ 

‘फैंटम फिल्म्स’ (Phantom Films) एक प्राइवेट एंटरटेनमेंट कंपनी थी, जिसकी स्थापना 2010 में हुई थी. इस कंपनी के फाउंडर हैं अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap), विक्रमादित्य मोटवानी (Vikramaditya Motwane), विकास बहल (Vikas Bahl) और मधु मंटेना (Madhu Mantena). ये कंपनी फिल्म प्रोडक्शन और डिस्ट्रीब्यूशन का काम करती थी. मार्च 2015 में रिलायंस एंटरटेनमेंट ने इसमें 50 फीसदी हिस्सेदारी खरीद ली थी. इसके बाद 2018 में विकास बहल (Vikas Bahl) को इस कंपनी बेदखल कर दिया गया. बाद में ये प्रोडक्शन हाउस डीफंक्ट हो गया. सबने घोषणा की कि ये सारे फिल्ममेकर्स अपनी फिल्में अब अलग-अलग बनाएंगे. बाद में अनुराग कश्यप ने नई प्रोडक्शन कंपनी ‘गुड बैड फिल्म्स’ शुरू की, जबकि मोटवानी ने ‘आंदोलन फिल्म्स’ शुरू किया.

ये भी पढ़ें: Anurag और Taapsee के घर IT रेड में बड़ा खुलासा, 350 करोड़ के लेन-देन की नहीं मिली जानकारी

एंटरटेनमेंट की लेटेस्ट और इंटरेस्टिंग खबरों के लिए यहां क्लिक कर Zee News के Entertainment Facebook Page को लाइक करें 





Source link