नई दिल्लीः मध्यप्रदेश में रविवार को लगाया जाने वाला कोरोना कर्फ्यू हटाने का ऐलान हो गया है. शनिवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इस बात की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि राज्य में कोरोना संक्रमण काबू में आ गया है और ऐसे में कोरोना कर्फ्यू लगाना सही नहीं होगा. सीएम ने कहा कि राज्य के 35 जिलों में कोरोना का एक भी नया मामला नहीं है और राज्य में संक्रमण दर 0.06 प्रतिशत रह गई है. इसके अलावा राज्य में एक्टिव केसों की संख्या भी 1000 से कम रह गई है. इसलिए सरकार ने कोरोना कर्फ्यू हटाने का फैसला लिया है.

राज्य में कोविड-19 के डेल्टा प्लस वैरिएंट के 8 केस मिले
मध्यप्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने शनिवार को कहा कि प्रदेश में अब तक कम से कम आठ लोग कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस वैरिएंट से संक्रमित मिले हैं. हालांकि इन मरीजों के संपर्क का कोई व्यक्ति वायरस के इस संस्करण से संक्रमित नहीं पाया गया है. अधिकारियों के अनुसार इस साल मई में जिन दो लोगों की मौत हुई वह डेल्टा प्लस संस्करण से संक्रमित पाए गए थे. सारंग ने कहा कि डेल्टा प्लस संस्करण से संक्रमित रोगियों का दिशा निर्देश के अनुसार परीक्षण किया जा रहा है और इस संबंध में राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) प्रदेश को नियमित रूप से जानकारी साझा कर रहा है. 

शुक्रवार को इतने नए केस मिले
स्वास्थ्य विभाग के अनुसार मध्यप्रदेश में शुक्रवार को कोविड-19 के 50 नए मामले मिले. इसके अलावा इससे 22 लोगों की मौत हो गई. अब तक राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 7,89,611 हो गई है. इस वायरस से अब तक राज्य में 8,871 लोग जान गंवा चुके हैं. 

यह भी पढ़ेंः

कई बड़े देशों से बेहतर है भारत का टीकाकरण अभियान, अब तक लगाई गईं कोरोना वैक्सीन की 31.50 करोड़ डोज



Source link