* मामला ग्राम जुझारपुरा का, निरीक्षण के बाद सचिव ने कोटेदार पर कार्रवाई के लिए आपूर्ति निरीक्षक को सौंपी रिपोर्ट

कोंच। तहसील क्षेत्र के ग्राम जुझारपुरा में रविवार को गांव ग्राम विकास अधिकारी अभिषेक कुमार यादव ने राशनकार्ड धारकों की शिकायत पर सरकारी राशन की दुकान का निरीक्षण किया और कार्ड धारकों की शिकायत सही पाई। सचिव ने कोटेदार पर कार्रवाई की संस्तुति के साथ आपूर्ति निरीक्षक को रिपोर्ट सौंपी है।
सरकारी दुकान का निरीक्षण करने पहुंचे ग्राम विकास अधिकारी के समक्ष राशनकार्ड धारक रामवती पत्नी रमेश निवासी ग्राम चमेंड़ ने कोटेदार द्वारा गेहूं निर्धारित मात्रा 20 किलो से कम देने की शिकायत की जिसको लेकर ग्राम विकास अधिकारी ने जब दोबारा से गेहूं की तौल कराई तो 18.4 किलो गेहूं ही पाया गया। ग्राम विकास अधिकारी ने जब कोटेदार से सबाल जबाब किया तो कोटेदार ने अजीब तर्क देते हुए कहा कि प्रत्येक बोरी में उसे निर्धारित मात्रा से कम गेहूं प्राप्त होता है और पल्लेदारी के रूप में रुपए भी उसे अपनी जेब से ही पड़ते हैं, इसलिये ये सब खर्च निकालने के लिए कम तौल करनी पड़ती है। मामले को गंभीर मानते हुए ग्राम विकास अधिकारी ने कोटेदार के खिलाफ कार्रवाई किए जाने हेतु अपनी रिपोर्ट आपूर्ति निरीक्षक मनोज कुमार को सौंप दी है। अब देखना होगा कि आपूर्ति निरीक्षक द्वारा कोटेदार के खिलाफ किस प्रकार की कार्रवाई अमल में लाई जाती है।





Source link