अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव

अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

मैनपुरी लोकसभा उपचुनाव के लिए सपा ने तैयारी शुरू कर दी है। मंगलवार को सैफई में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मैनपुरी के नेताओं के साथ चर्चा की। उपचुनाव में प्रत्याशी के लिए सामूहिक रूप से जानकारी लेने के बाद अलग-अलग नेताओं की राय जानी। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि उपचुनाव हर हाल में जीतना ही पार्टी का लक्ष्य है। बुधवार को लोकसभा उपचुनाव के लिए प्रत्याशी की घोषणा कर दी जाएगी।

प्रतिष्ठा का प्रश्र है ये सीट  

क्षेत्रीय सांसद सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद लोकसभा सीट पर उपचुनाव हो रहा है। सपा संरक्षक हमेशा इटावा को अपनी जन्म भूमि तथा मैनपुरी को अपनी कर्मभूमि बताते रहे हैं। लोकसभा में मैनपुरी का प्रतिनिधित्व सपा संरक्षक के अलावा उनके भतीजे धर्मेंद्र यादव तथा पौत्र तेजप्रताप यादव भी कर चुके हैं। सपा का गढ़ कही जाने वाली मैनपुरी सीट सपा संरक्षक की गैर मौजूदगी में सपा के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्र बनी हुई है। 

अखिलेश यादव से मिलने पहुंचे मैनपुरी के नेता 

मंगलवार को सैफई में राष्ट्रीय अध्यक्ष से मिलने स्थानीय सपा नेता पहुंचे। सपा नेताओं से राष्ट्रीय अध्यक्ष ने सामूहिक रूप से उपचुनाव के लिए प्रत्याशी को लेकर उनकी राय जानी। बाद में बंद कमरे में अलग अलग एक एक नेता को बुलाकर उनकी उपचुनाव के लिए बेहतर प्रत्याशी के संबंध में राय जानी। स्थानीय नेताओं से रायशुमारी करने के बाद कहा कि उपचुनाव हमको हर हाल में जीतना है। उपचुनाव जीतने के लिए तैयारी शुरू कर दें। बुधवार को प्रत्याशी की घोषणा कर दी जाएगी।

ये रहे मौजूद 

सपा जिलाध्यक्ष देवेंद्र सिंह यादव ने बताया कि स्थानीय नेताओं से रायशुमारी करने के बाद देर शाम राष्ट्रीय अध्यक्ष लखनऊ के लिए रवाना हो गए। राष्ट्रीय अध्यक्ष से मिलने के लिए जिलाध्यक्ष सहित विधायक ब्रजेश कठेरिया, सतीश यादव, सांसद प्रतिनिधि देवेंद्र सिंह यादव, मनोज यादव के अलावा जिला पंचायत सदस्य भी पहुंचे थे।

विस्तार

मैनपुरी लोकसभा उपचुनाव के लिए सपा ने तैयारी शुरू कर दी है। मंगलवार को सैफई में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मैनपुरी के नेताओं के साथ चर्चा की। उपचुनाव में प्रत्याशी के लिए सामूहिक रूप से जानकारी लेने के बाद अलग-अलग नेताओं की राय जानी। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि उपचुनाव हर हाल में जीतना ही पार्टी का लक्ष्य है। बुधवार को लोकसभा उपचुनाव के लिए प्रत्याशी की घोषणा कर दी जाएगी।

प्रतिष्ठा का प्रश्र है ये सीट  

क्षेत्रीय सांसद सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद लोकसभा सीट पर उपचुनाव हो रहा है। सपा संरक्षक हमेशा इटावा को अपनी जन्म भूमि तथा मैनपुरी को अपनी कर्मभूमि बताते रहे हैं। लोकसभा में मैनपुरी का प्रतिनिधित्व सपा संरक्षक के अलावा उनके भतीजे धर्मेंद्र यादव तथा पौत्र तेजप्रताप यादव भी कर चुके हैं। सपा का गढ़ कही जाने वाली मैनपुरी सीट सपा संरक्षक की गैर मौजूदगी में सपा के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्र बनी हुई है। 

अखिलेश यादव से मिलने पहुंचे मैनपुरी के नेता 

मंगलवार को सैफई में राष्ट्रीय अध्यक्ष से मिलने स्थानीय सपा नेता पहुंचे। सपा नेताओं से राष्ट्रीय अध्यक्ष ने सामूहिक रूप से उपचुनाव के लिए प्रत्याशी को लेकर उनकी राय जानी। बाद में बंद कमरे में अलग अलग एक एक नेता को बुलाकर उनकी उपचुनाव के लिए बेहतर प्रत्याशी के संबंध में राय जानी। स्थानीय नेताओं से रायशुमारी करने के बाद कहा कि उपचुनाव हमको हर हाल में जीतना है। उपचुनाव जीतने के लिए तैयारी शुरू कर दें। बुधवार को प्रत्याशी की घोषणा कर दी जाएगी।

ये रहे मौजूद 

सपा जिलाध्यक्ष देवेंद्र सिंह यादव ने बताया कि स्थानीय नेताओं से रायशुमारी करने के बाद देर शाम राष्ट्रीय अध्यक्ष लखनऊ के लिए रवाना हो गए। राष्ट्रीय अध्यक्ष से मिलने के लिए जिलाध्यक्ष सहित विधायक ब्रजेश कठेरिया, सतीश यादव, सांसद प्रतिनिधि देवेंद्र सिंह यादव, मनोज यादव के अलावा जिला पंचायत सदस्य भी पहुंचे थे।





Source link

0Shares

ताज़ा ख़बरें

%d bloggers like this: