अमर उजाला फाउंडेशन और बाल चित्र समिति भारत द्वारा दिखाया गया फिल्म।

अमर उजाला फाउंडेशन और बाल चित्र समिति भारत द्वारा दिखाया गया फिल्म।
– फोटो : अमर उजाला।

ख़बर सुनें

अमर उजाला फाउंडेशन और बाल चित्र समिति भारत की ओर से बृहस्पतिवार को महानगर के तीन विद्यालयों में बाल फिल्मों का प्रदर्शन किया गया। कंपोजिट पूर्व माध्यमिक विद्यालय जंगल शालिग्राम पादरी बाजार, कंपोजिट पूर्व माध्यमिक विद्यालय मिर्जापुर और प्राथमिक विद्यालय हजारीपुर में दिखाए गए बाल फिल्मों ने बच्चों का खूब मनोरंजन किया।

सुबह 10 बजे से जंगल शालिग्राम पादरी बाजार के कंपोजिट पूर्व माध्यमिक विद्यालय में लगभग 150 बच्चों ने बाल फिल्म ‘पकड़ा गया’ देखी। फिल्म में बजरंगी बंदर की हरकतों पर बच्चों ने जमकर तालियां बजाईं और खूब ठहाके लगाए। इस दौरान विद्यालय की प्रधानाचार्य सुशीला देवी ने कहा कि बच्चों की बौद्धिक क्षमता की वृद्धि के लिए अमर उजाला की ये पहल सराहनीय है। इस अवसर पर शिक्षिका सुधा मिश्रा, शकुंतला विश्वकर्मा, नंदिनी श्रीवास्तव आदि मौजूद रहीं।

सुबह 11:30 बजे से कंपोजिट पूर्व माध्यमिक विद्यालय मिर्जापुर में करीब 100 बच्चों ने बाल फिल्म ‘बल्लू शाह’ देखी। फिल्म के माध्यम से बच्चों को कंजूसी नहीं करने की प्रेरणा मिली। बच्चे इस फिल्म को देखकर काफी खुश नजर आए। इस दौरान नगर शिक्षा अधिकारी नरेंद्र सिंह ने कहा कि पढ़ाई के साथ ही बच्चों के लिए मनोरंजन भी जरूरी है। इस लिहाज से बच्चों को बाल फिल्म दिखाया जाना बेहतरीन कार्य है। इस अवसर पर प्रधानाचार्य उम्मे सादिया, कैसर जहां, रीता पांडेय, प्रतिमा गुप्ता, फौजिया खातून, फैसल रेहान आदि मौजूद रहे।

दोपहर 1:30 बजे से प्राथमिक विद्यालय हजारीपुर में लगभग 100 बच्चों ने बाल फिल्म ‘छोटा सिपाही’ देखी। इस फिल्म के प्रेरणादायी और हास्य दृश्यों को देख बच्चे खूब उत्साहित नजर आए। विद्यालय की प्रधानाचार्य आभा श्रीवास्तव ने बताया कि बच्चे किसी भी चीज को जल्दी ग्रहण करते हैं।

इस फिल्म को देख स्कूल के बच्चे काफी खुश हैं। इस अवसर पर शिक्षक कमलेश राय, पूनम श्रीवास्तव, सरिता सिंह, छवि वर्मा, शिवा, साक्षी, विवेक, अमित, नयनसी, सौम्या आदि मौजूद रहीं।

विस्तार

अमर उजाला फाउंडेशन और बाल चित्र समिति भारत की ओर से बृहस्पतिवार को महानगर के तीन विद्यालयों में बाल फिल्मों का प्रदर्शन किया गया। कंपोजिट पूर्व माध्यमिक विद्यालय जंगल शालिग्राम पादरी बाजार, कंपोजिट पूर्व माध्यमिक विद्यालय मिर्जापुर और प्राथमिक विद्यालय हजारीपुर में दिखाए गए बाल फिल्मों ने बच्चों का खूब मनोरंजन किया।

सुबह 10 बजे से जंगल शालिग्राम पादरी बाजार के कंपोजिट पूर्व माध्यमिक विद्यालय में लगभग 150 बच्चों ने बाल फिल्म ‘पकड़ा गया’ देखी। फिल्म में बजरंगी बंदर की हरकतों पर बच्चों ने जमकर तालियां बजाईं और खूब ठहाके लगाए। इस दौरान विद्यालय की प्रधानाचार्य सुशीला देवी ने कहा कि बच्चों की बौद्धिक क्षमता की वृद्धि के लिए अमर उजाला की ये पहल सराहनीय है। इस अवसर पर शिक्षिका सुधा मिश्रा, शकुंतला विश्वकर्मा, नंदिनी श्रीवास्तव आदि मौजूद रहीं।

सुबह 11:30 बजे से कंपोजिट पूर्व माध्यमिक विद्यालय मिर्जापुर में करीब 100 बच्चों ने बाल फिल्म ‘बल्लू शाह’ देखी। फिल्म के माध्यम से बच्चों को कंजूसी नहीं करने की प्रेरणा मिली। बच्चे इस फिल्म को देखकर काफी खुश नजर आए। इस दौरान नगर शिक्षा अधिकारी नरेंद्र सिंह ने कहा कि पढ़ाई के साथ ही बच्चों के लिए मनोरंजन भी जरूरी है। इस लिहाज से बच्चों को बाल फिल्म दिखाया जाना बेहतरीन कार्य है। इस अवसर पर प्रधानाचार्य उम्मे सादिया, कैसर जहां, रीता पांडेय, प्रतिमा गुप्ता, फौजिया खातून, फैसल रेहान आदि मौजूद रहे।

दोपहर 1:30 बजे से प्राथमिक विद्यालय हजारीपुर में लगभग 100 बच्चों ने बाल फिल्म ‘छोटा सिपाही’ देखी। इस फिल्म के प्रेरणादायी और हास्य दृश्यों को देख बच्चे खूब उत्साहित नजर आए। विद्यालय की प्रधानाचार्य आभा श्रीवास्तव ने बताया कि बच्चे किसी भी चीज को जल्दी ग्रहण करते हैं।

इस फिल्म को देख स्कूल के बच्चे काफी खुश हैं। इस अवसर पर शिक्षक कमलेश राय, पूनम श्रीवास्तव, सरिता सिंह, छवि वर्मा, शिवा, साक्षी, विवेक, अमित, नयनसी, सौम्या आदि मौजूद रहीं।





Source link

0Shares

ताज़ा ख़बरें

%d bloggers like this: