उत्तर प्रदेश औरेया

बहन बेटियों की रक्षा के लिए यूपी में नई प्रक्रिया शुरू

औरैया आयुष गुप्ता। खौफजदा बहन-बेटियों को घर तक पहुंचाने को पुलिस विभाग की ओर से नई व्यवस्था लागू की गई है। जिसमें रात में डर की भावना होने पर तत्काल यूपी १०० नंबर घुमाने पर पी आरबी गाड़ी बताए गए स्थान पर पहुंचकर संबंधित महिला को सुरक्षित उसके घर पहुंचाएगी। इसके लिए कार में महिला पुलिस कर्मियों को तत्काल प्रभाव से तैनात कर दिया गया है।
आईजी जोन कानपुर के निर्देश के बाद जिले के बिधूना, दिबियापुर, औरैया व अजीतमल में तैनात पीआरबी गाडिय़ों में महिला पुलिस कर्मियों की तैनाती की गई है। इस संंबंध में एसपी प्रो.त्रिवेणी सिंह ने बताया कि आईजी जोन कानपुर के आदेश के बाद जिले के चार थाना क्षेत्रों में यह व्यवस्था लागू की गई है। जिसमें रात में बाहर से आने वाली लड़कियों, महिलाओं को घर तक पहुंचने के लिए असुरक्षा प्रतीत होने पर वह यूपी १०० नंबर पर फोन करके इसकी जानकारी दे सकती हैं। इस पर उनकी ओर से दी गई जानकारी पर तत्काल पीआरबी की गाड़ी पहुंचेगी। जिसमें सवार महिला पुलिस कर्मी उक्त महिला, युवती को उसके घर तक सुरक्षित पहुंचाने का काम करेंगी। उन्होंने बताया कि अभी शुरुआत में चार थाना क्षेत्रों में इस व्यवस्था को लागू किया गया है। इसके परिणाम देखने के बाद अन्य क्षेत्रों में इस व्यवस्था को लागू करने की दिशा में निर्णय लिया जाएगा। इसके लिए निर्धारित क्षेत्रों में पीआरबी गाडिय़ों में दो-दो महिला पुलिस कर्मी रात में ड्यूटी पर तैनात रहेंगी। इस व्यवस्था के लागू होने से जहां महिलाओं को सुरक्षित घर तक जाने में अब कोई भी बाधा का सामना नहीं करना पड़ेगा। वहीं रात में छेड़छाड़ की घटना करने वाले शोहदों व ओछी मानसिकता वाले मनचलों पर पुलिस की सख्त निगेहबानी रहेगी।

Leave a Reply