ख़बर सुनें

बांदा। कार्तिक पूर्णिमा पर ऐतिहासिक कालिंजर दुर्ग में लगने वाले मेले की तैयारियां शुरू हो गई हैं। परिवहन निगम ने भी मेले में दूर-दराज से आने वाले यात्रियों की सुविधा के लिए नियमित बसों के अतिरिक्त 14 बसें और लगाने का निर्णय लिया है।
सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक गौतम कुमार ने बताया कि कालिंजर मार्ग पर रोडवेज की छह बसें पहले से ही चल रही हैं। कालिंजर महोत्सव में यात्रियों की संख्या बढ़ने की संभावना है। इस कारण नियमित बसों के अतिरिक्त 14 और बसें लगाई जाएंगी।
दो बसें कालिंजर में रात में रुकेंगी और वहां से सुबह 6 बजे बांदा के लिए चलेंगी। अन्य बसों के आने जाने का समय निर्धारित किया जा रहा है। आवश्यकता पड़ने पर बसों की संख्या बढ़ाई जा सकती है। मेले को देखते हुए परिचालक और चालकों की छुट्टी निरस्त कर दी गई है, जिससे बसों के संचालन में किसी प्रकार का व्यवधान न हो।
मुख्यालय में कंट्रोल रूम खोला जाएगा। यदि किसी अन्य मार्ग व स्टेशन पर कालिंजर जाने वाले दस से अधिक यात्री हैं तो वहां रिजर्व बसों को भेजकर यात्रियों को कालिंजर पहुंचाया जाएगा। चालकों को निर्देश दिए गए हैं कि वह कोरोना के मद्देनजर मास्क व सैनीटाइजर का प्रयोग अवश्य करें।

बांदा। कार्तिक पूर्णिमा पर ऐतिहासिक कालिंजर दुर्ग में लगने वाले मेले की तैयारियां शुरू हो गई हैं। परिवहन निगम ने भी मेले में दूर-दराज से आने वाले यात्रियों की सुविधा के लिए नियमित बसों के अतिरिक्त 14 बसें और लगाने का निर्णय लिया है।

सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक गौतम कुमार ने बताया कि कालिंजर मार्ग पर रोडवेज की छह बसें पहले से ही चल रही हैं। कालिंजर महोत्सव में यात्रियों की संख्या बढ़ने की संभावना है। इस कारण नियमित बसों के अतिरिक्त 14 और बसें लगाई जाएंगी।

दो बसें कालिंजर में रात में रुकेंगी और वहां से सुबह 6 बजे बांदा के लिए चलेंगी। अन्य बसों के आने जाने का समय निर्धारित किया जा रहा है। आवश्यकता पड़ने पर बसों की संख्या बढ़ाई जा सकती है। मेले को देखते हुए परिचालक और चालकों की छुट्टी निरस्त कर दी गई है, जिससे बसों के संचालन में किसी प्रकार का व्यवधान न हो।

मुख्यालय में कंट्रोल रूम खोला जाएगा। यदि किसी अन्य मार्ग व स्टेशन पर कालिंजर जाने वाले दस से अधिक यात्री हैं तो वहां रिजर्व बसों को भेजकर यात्रियों को कालिंजर पहुंचाया जाएगा। चालकों को निर्देश दिए गए हैं कि वह कोरोना के मद्देनजर मास्क व सैनीटाइजर का प्रयोग अवश्य करें।





Source link

0Shares

ताज़ा ख़बरें

%d bloggers like this: