ख़बर सुनें

बांदा। सौभाग्य योजना में चित्रकूटधाम मंडल के चारों जिलों के 2, 72, 287 उपभोक्ता कर्जदार बन गए। विभागीय अफसरों का दावा है कि योजना के तहत कनेक्शन होने के बाद से अब तक किसी भी उपभोक्ता ने एक बार भी बिल जमा नहीं किया है। इसके चलते मंडल में विभाग का 9,96,03,23,923 रुपये बिल बकाया है। अब विभाग बकायादारों को आरसी जारी कर बिल वसूली की तैयारी कर रहा है।
वर्ष 2017 में सौभाग्य योजना के तहत घर-घर बिजली पहुंचाने के लिए सरकारी मंशा के अनुरूप बिजली विभाग ने मंडल के चारों जिलों में तीन लाख से अधिक उपभोक्ताओं को बिजली के मुफ्त कनेक्शन दिए थे। साथ ही घर पर मीटर, बिजली का बोर्ड व बल्ब भी मुफ्त लगाया था। बांदा जिले में सर्वाधिक 1.15 लाख, हमीरपुर में 60, महोबा में 75, चित्रकूट में 80 हजार कनेक्शन दिए गए थे। जनवरी 2020 में यह योजना बंद कर दी गई थी, लेकिन कनेक्शन लेने वाले 2,72,287 उपभोक्ता छह साल से मुफ्त की बिजली जला रहे हैं।
इन लोगों ने आज तक एक बार भी बिल जमा नहीं किया। इससे बिल बढ़ता जा रहा है। बिल की रकम ज्यादा हो जाने से उपभोक्ताओं के पास अब बकाया जमा करने की समस्या है। विभाग ने ऐसे उपभोक्ताओं का पर शिकंजा कसने की तैयारी शुरू कर दी है। उपभोक्ताओं को नोटिस जारी कर चेतावनी दी गई कि वह जल्द बकाया नहीं जमा करते तो कनेक्शन काटने के साथ ही आरसी जारी की जाएगी।
जनपद उपभोक्ता बकाया
बांदा 98601 2,34,97,08,315
चित्रकूट 70739 1,90,44,44,438
महोबा 51187 2,73,00,13,484
हमीरपुर 56760 2,97,78,87,686
योग- 277287 9,96,03,23,923
शहर में 500 व गांवों में 400 रुपये बिल
सौभाग्य योजना के तहत न्यूयनतम 100 यूनिट तक बिजली जलाने में शहरी उपभोक्ता को 500 व ग्रामीण को 400 रुपये बिल देना पड़ता है, लेकिन उपभोक्ता यह रकम भी अदा नहीं कर पा रहे हैं। अधिकारियों को वसूली में पसीना
छूट रहा है।
सौभाग्य योजना के बकायादारों को बिल जमा करने के लिए समझाने का प्रयास किया जा रहा है। नोटिस जारी की गई है। जल्द बिल जमा नहीं किया तो कनेक्शन काटकर आरसी जारी की जाएगी। -जेपीएन सिंह, अधीक्षण अभियंता, चित्रकूटधाम मंडल, बांदा।

बांदा। सौभाग्य योजना में चित्रकूटधाम मंडल के चारों जिलों के 2, 72, 287 उपभोक्ता कर्जदार बन गए। विभागीय अफसरों का दावा है कि योजना के तहत कनेक्शन होने के बाद से अब तक किसी भी उपभोक्ता ने एक बार भी बिल जमा नहीं किया है। इसके चलते मंडल में विभाग का 9,96,03,23,923 रुपये बिल बकाया है। अब विभाग बकायादारों को आरसी जारी कर बिल वसूली की तैयारी कर रहा है।

वर्ष 2017 में सौभाग्य योजना के तहत घर-घर बिजली पहुंचाने के लिए सरकारी मंशा के अनुरूप बिजली विभाग ने मंडल के चारों जिलों में तीन लाख से अधिक उपभोक्ताओं को बिजली के मुफ्त कनेक्शन दिए थे। साथ ही घर पर मीटर, बिजली का बोर्ड व बल्ब भी मुफ्त लगाया था। बांदा जिले में सर्वाधिक 1.15 लाख, हमीरपुर में 60, महोबा में 75, चित्रकूट में 80 हजार कनेक्शन दिए गए थे। जनवरी 2020 में यह योजना बंद कर दी गई थी, लेकिन कनेक्शन लेने वाले 2,72,287 उपभोक्ता छह साल से मुफ्त की बिजली जला रहे हैं।

इन लोगों ने आज तक एक बार भी बिल जमा नहीं किया। इससे बिल बढ़ता जा रहा है। बिल की रकम ज्यादा हो जाने से उपभोक्ताओं के पास अब बकाया जमा करने की समस्या है। विभाग ने ऐसे उपभोक्ताओं का पर शिकंजा कसने की तैयारी शुरू कर दी है। उपभोक्ताओं को नोटिस जारी कर चेतावनी दी गई कि वह जल्द बकाया नहीं जमा करते तो कनेक्शन काटने के साथ ही आरसी जारी की जाएगी।

जनपद उपभोक्ता बकाया

बांदा 98601 2,34,97,08,315

चित्रकूट 70739 1,90,44,44,438

महोबा 51187 2,73,00,13,484

हमीरपुर 56760 2,97,78,87,686

योग- 277287 9,96,03,23,923

शहर में 500 व गांवों में 400 रुपये बिल

सौभाग्य योजना के तहत न्यूयनतम 100 यूनिट तक बिजली जलाने में शहरी उपभोक्ता को 500 व ग्रामीण को 400 रुपये बिल देना पड़ता है, लेकिन उपभोक्ता यह रकम भी अदा नहीं कर पा रहे हैं। अधिकारियों को वसूली में पसीना

छूट रहा है।

सौभाग्य योजना के बकायादारों को बिल जमा करने के लिए समझाने का प्रयास किया जा रहा है। नोटिस जारी की गई है। जल्द बिल जमा नहीं किया तो कनेक्शन काटकर आरसी जारी की जाएगी। -जेपीएन सिंह, अधीक्षण अभियंता, चित्रकूटधाम मंडल, बांदा।





Source link

0Shares

ताज़ा ख़बरें

%d bloggers like this: