हाइलाइट्स

चंद्र ग्रहण का प्रभाव सभी राशियों पर होता है.
आप चंद्रमा की स्तुति कर सकते हैं, इससे ग्रहण का अशुभ प्रभाव दूर हो जाता है.

Chandra Grahan 2022: साल 2022 का अंतिम चंद्र ग्रहण लगने वाला है. दिल्ली में यह शाम 05 बजकर 32 मिनट से शुरू होगा और शाम 06 बजकर 19 मिनट पर ग्रहण का मोक्ष होगा. तिरुपति के ज्योतिषाचार्य डॉ कृष्ण कुमार भार्गव बताते हैं कि चंद्र ग्रहण का प्रभाव सभी राशियों पर होता है. जिस पर ग्रहण का अशुभ प्रभाव हो सकता है, उन लोगों को चंद्र ग्रहण में चंद्रमा के बीज मंत्र या मंत्र और राहु के बीज मंत्र या मंत्र का जाप करना चाहिए. इसके अलावा आप चंद्रमा की स्तुति कर सकते हैं, इससे ग्रहण का अशुभ प्रभाव दूर हो जाता है. आइए जानते हैं चंद्र ग्रहण में की जाने वाली स्तुति और मंत्रों के बारे में.

ये भी पढ़ें: जानें चंद्र ग्रहण बाद मंदिरों में कितने बजे से होगी पूजा-आरती

चंद्र ग्रहण में की जाने वाली स्तुति
सोऽसौ वज्रधरो देव आदित्यानां प्रयत्नतः।
सहस्रनयनःशक्रो ग्रहपीडां व्यपोहतु।।

चतुःशृङ्गः सप्तहस्तः त्रिपादो मेषवाहनः।
अग्निश्चन्द्रोपरागोत्थां ग्रहपीडां व्यपोहतु।

यः कर्मसाक्षी लोकानां धर्मो महिषवाहनः।
यमश्चन्द्रोपरागोत्थां ग्रहपीडां व्यपोहतु।।

रक्षोगणाधिपः साक्षात्प्रलयानलसन्निभः।
खड्गचर्मातिकायश्च रक्ष पीडां व्यपोहतु।।

नागपाशधरो देवः सदा मकरवाहनः।
वरुणोम्बुपतिः साक्षाग्रहपीडां व्यपोहतु।।

प्राणरूपो हि लोकानां चारुकृष्णमृगप्रियः।
वायुश्चन्द्रोपरागोत्थग्रहपीडां व्यपोहतु।।

योऽसौ निधिपतिर्देवः खड्गशूलगदाधरः|
चन्द्रोपरागकलुषं धनदोऽत्र व्यपोहतु।।

त्रैलोक्ये यानि भूतानि स्थावरनाणि चराणि च ।
ब्रह्मार्कविष्णुयुक्तानि तानि पापं दहन्तु मे ।।

ये भी पढ़ें : चंद्र ग्रहण के बाद करें ये काम, आप पर नहीं होगा इसका बुरा प्रभाव

चंद्र ग्रहण में जाप करने वाले मंत्र
चंद्रमा बीज मंत्र: ॐ ऐं क्लीं सोमाय नमः
चंद्रमा का मंत्र: ॐ श्रां श्रीं श्रौं सः चन्द्राय नमः
तन्त्रोक्त मंत्र: ॐ सों सोमाय नमः

राहु का बीज मंत्र: ॐ ऐं ह्रीं राहवे नमः
राहु का मंत्र: ॐ भ्रां भ्रीं भ्रौं सः राहवे नमः
तन्त्रोक्त मंत्र: ॐ रां राहवे नमः

मंत्र जाप का लाभ
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, ग्रहण के समय चंद्र देव पर राहु के कारण संकट आता है, ऐसे में चंद्र देव के मंत्रों का जाप करते हैं ताकि उन पर आया यह संकट टल जाए और वे इससे मुक्त हो जाएं. राहु के मंत्रों का जाप करते हैं ताकि उसका कोई दुष्प्रभाव आप पर ना हो.

चंद्र ग्रहण समय 2022
चंद्र ग्रहण का प्रारंभ: आज शाम 05 बजकर 32 मिनट पर
चंद्र ग्रहण का समापन: आज शाम 06 बजकर 19 मिनट पर
सूतक काल का प्रारंभ: आज प्रात: 09 बजकर 21 मिनट से
सूतक काल का समापन: चंद्र ग्रहण के समापन के साथ

Tags: Chandra Grahan, Lunar eclipse



Source link

0Shares

ताज़ा ख़बरें

%d bloggers like this: