उत्तर प्रदेश जालौन

हैण्डपम्प खराब होने से गहराया पेयजल संकट

० नही है विभाग के पास पैसा कैसे हो हैण्डपम्प ठीक

उरई (जालौन)।(गोविंद सिंह दाऊ):-। यह कैसी बिडम्बना है कि नगरवासियों के साथ जलसंस्थान के अभियंता भी ईश्वर से प्रार्थना कर रहे है कि इस गर्मी के मौसम में कोई हेंडपम्प खराब न हो क्योंकि अभी तक जितने भी हैंडपम्प खराब हुए है उन्हें ठीक नही कराया जा सका है कारण साफ है कि विभाग के पास एक पैसा भी नही है । नगर में ऐसे कई हैंडपम्प है जो बीते लम्बे समय से खराब पड़े है अब इन हैंडपम्पो का अस्तुत्व मिटने की कगार पर पहुच गया है अगर जल्द ही इनकी मरम्मत नही की गई तो वह दिन दूर नही जब यह हैंडपम्प अपनी जगह पर दिखाई नही देंगे नगर के मोहल्ला गोखले नगर में लगे दो हैंडपम्प बीते एक साल से बन्द है इस इलाके के 7 सौ बाशिन्दे पेयजल के संकट से जूझ रहे है वह चूंकि जल संस्थान की पेयजल पाइप भी बस्ट हो चुकी है इलाहा बाशिंदों को सरकारी नलकूप पर जाकर पानी भरना पड़ रहा है विनोद जीतू ढोल अतुल हरिशंकर महाते पवन राजेश बताते है कि पानी की भारी परेसानी है 2 सौ मीटर दूर से पानी भरकर लाना पड़ रहा है कोई सुनने बाला नही है इसी प्रकार कैलिया बस स्टैंड गांधी नगर सुभाष नगर आदि नगर के हरेक इलाके में हैंडपम्प खराब पड़े है जिनका पुरसाहाल कोई नही है जल संस्थान के जे ई प्रशांत त्रिपाठी मजबूर है कहते है कि धन आभाव के कारण वह मरम्मत नही कर पा रहे है जब भी कही से भी हैंडपम्प खराब होने के शिकायत मिलती है तो वह नगर पालिका से धन की मांग करते है बीते दिनों उन्होंने हैंडपम्प मरम्मत के लिए नगर पालिका से धन राशि मांगी थी इससे पूर्व भी कई बार अधिशाषी अभियंता द्वारा नगर पालिका को हैंडपम्प मरम्मत के लिए धन राशि देने के लिए पत्र लिखा गया स्टीमेट भी बनाकर भेजे गए लेकिन न तो शासन से धन मिला और न ही नगर पालिका ने उनकी मदद की है।