उत्तर प्रदेश जालौन

सीएमएस की सांठगांठ के चलते ओपीडी के कक्ष न.-12 नहीं बैठते डाक्टर

√ वरिष्ठ परामर्शदाता के रूप में डा. सुनील अग्रवाल व डा. बनौधा की तैनाती

उरई (जालौन)। (गोविंद सिंह दाऊ):- जिला अस्पताल में डाक्टरों की भारी कमी चली आ रही है यहां पर न तो सर्जन है और न ही फिजीशियन है इसके साथ ही कई स्पेसलिस्ट डाक्टरों की कमी होने के कारण यहां पर आने वाले मरीजों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ है। जिला अस्पताल की ओपीडी में तीन डाक्टर हड्डीरोग विशेषज्ञ, चार बालरोग विशेषज्ञ, नाक-गलारोग विशेषज्ञ तथा दंत विशेषज्ञ के अलावा कोई भी मर्ज का डाक्टर नहीं है।डाक्टरों की कमी के चलते ओपीडी के कक्ष नम्बर-12 दो वरिष्ठ परामर्शदाता के रूप में डा. सुनील अग्रवाल व डाक्टर अवनीश बनौधा की तैनाती कर रखी गयी इस लिए की ओपीडी में आने वाले विभिन्न रोगों के मरीजों को उक्त दोनों डाक्टर देखकर उनको सही उपचार की सलाह दे सके। इसके बाद भी यह दोनों डाक्टर अस्पताल के सीएमएस की सांठगांठ के चलते कभी भी समय पर अपने कक्ष में बैठकर मरीजों को नहीं देखते है मगर वेतन सरकार से जरूरत लेने में नहीं चूंकते है। बताते चले कि डाक्टर सुनील अग्रवाल उरई शहर के मुहल्ला विजयनगर निवासी है जिनकी तैनात इससे पहले झांसी में थी मगर उन्होंने अपनी ऊंची पहुंच के चलते अपना स्थानांतरण जिला चिकित्सालय के लिये करवा लिया है जिसका वह भरपूर लाभ लेने से नहीं चूंक रहे है। सूत्र तो यह भी बताते है कि डा. सुनील अग्रवाल स्थानीय होने के कारण शहर के अंदर चल रहे प्राइवेट नर्सिंगहोमो में पहुंच कर लम्बी कमाई भी करने में नहीं चूकते है यहीं कारण है कि डा. सुनील अग्रवाल अस्पताल समय में कभी भी अपने कक्ष में बैठे नहीं मिलेंगे।जिसका खामियाजा अस्पताल आने वाले मरीजों को भुगतना पड़ रहा है फिर भी अस्पताल के जिम्मेदार सीएमएस
इस सबके बाद भी ब्यवस्थाओं में सुधार करते नजर नहीं आ रहे है।

Leave a Reply