उत्तर प्रदेश जालौन

डिवाइडर के लिए खोदी जा रही मुख्य सड़क बनी मुसीबत

० वाहन चालक गिरकर हो चुटहिल

० मार्ग का पहले हो चौड़ी करण फिर निर्मित हो डिवाइडर

उरई (जालौन)।(गोविंद सिंह दाऊ):-। नगर पालिका द्वारा शहर के मुख्य मार्ग पर निर्मित करवाये जा रहे वे तरतीब डिवाइडर ने आम नागरिकों के सामने दिक्कतें पैदा कर रखी है जिसकी बजह से जाम तो लगता ही है साथ दो पहिया वाहन चालक दुघर्टना के शिकार होते नजर आ रहे है।जिसका मुख्य कारण यह है कि डिवाइडर बनाने के लिए सड़क को बेतरतीब तरह से खोदा गया है।यह खुदी हुई सड़क लोगों की परेशानी का सबब बनती जा रही है। बताया जाता है कि निर्माण कार्य शुरू होने से पूर्व यह तय हुआ था कि 10-10 मीटर के हिसाब से मार्ग खुदवाया जायेगा और धीरे-धीरे डिवाइडर का निर्माण होता जायेगा इससे मार्ग से निकलने वाले राहगीरों को दिक्कत भी नहीं होगी लेकिन ठेकेदार ने सड़क को जेसीबी मशीन से शहीद भगतसिंह चौराहा से लेकर घंटाघर तक सड़क को खोद डाला है।जिससे उसके आसपास फैला मलवा राहगीरों के लिए परेशानी का सबब बनता जा रहा है।ठेकेदार जो सड़क खुदाई जेसीबी से करवा रहा है अगर उस खुदाई को मजदूरों के द्वारा करवाया जाता तो खुदाई आड़ी तिरछी न होती और ही सड़क पर कलई डाली गयीं और न ही नापजोख की जा रही है सिर्फ ठेकेदार द्वारा अंधेरे में तीर चलाया जा रहा है।जिससे शहर की जनता को दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। वहीं खुदा हुआ मलवा इधर-उधर फैलने से दोपहिया वाहन चालकों को निकलने में भारी दिक्कत का उठानी पड़ रही है साथ ही जाम लग जाता है।लोगों का कहना है कि पांच दिनों से सड़क खुदी पड़ी है और ठेकेदार द्वारा निर्माण कार्य अभी तक शुरू नहीं किया जा सका है। यही सड़क को टुकड़ों में खोदा जाता तो लोगों को होने वाली परेशानी से बचाया जा सकता था और निर्माण कार्य भी ठीक तरह से होता फिलहाल यह भी लोगों को देखना है कि पुराना डिवाइडर हटाकर नये डिवाइडर बनाने से लोगों को कितना लाभ मिल पाता है। लोगों का कहना हैं कि पहले सड़क का चौड़ीकरण होना चाहिए इसके बाद डिवाइडर का निर्माण करवाया जाना चाहिए।

Leave a Reply