ख़बर सुनें

इटावा। केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियों और महंगाई के विरोध में शुक्रवार को कांग्रेसी सड़कों पर उतर आए। नगर पालिका चौराहे से जिला मुख्यालय का घेराव करने जा रहे कांग्रेसियों को पुलिस ने नौरंगाबाद पुलिस चौकी पर रोक लिया। करीब 30 प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। इस दौरान महंगाई और केंद्र सरकार की अर्थी को लेकर पुलिस और कांग्रेसियों में छीना झपटी हुई। पुलिस ने अर्थी छीन लिया।
कांग्रेस के जिला कार्यालय से केंद्र सरकार की अर्थी रूपी पुतले की शवयात्रा निकालने की कोशिश कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ता कुछ दूर ही चले थे कि पुलिस ने अर्थी छीन ली। इसके बाद कांग्रेसी पैदल ही नारेबाजी करते हुए कचहरी की ओर चल दिए। रोका टोकी पर जिलाध्यक्ष मलखान सिंह यादव तथा शहर अध्यक्ष पल्लव दुबे की पुलिस से नोकझोंक होती रही।
कोतवाल भूपेंद्र राठी की अगुवाई में पुलिस बल कांग्रेसियों को रोकने में लगा रहा। नौरंगाबाद पुलिस चौकी के पास पुलिस ने बैरियर लगा दिए। वहां सिटी मजिस्ट्रेट राजेंद्र प्रसाद, एसडीएम राजेश कुमार वर्मा, एसपी सिटी कपिल देव, सिटी अमित कुमार भी पुलिस बल के साथ पहुंच गए।
नौरंगाबाद चौकी के पास ही जिलाध्यक्ष और शहर अध्यक्ष समेत 30 कांग्रेसियों को हिरासत में ले लिया गया। यहां से उन्हें पुलिस लाइन ले जाया गया। प्रदर्शन के दौरान महंगाई के साथ-साथ ईडी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई।
इस प्रदर्शन में शामिल होकर गिरफ्तारी देने वालों में कांग्रेस नेता सुखराम सिंधी, कोमल सिंह कुशवाहा, वाचस्पति द्विवेदी, राम नरेश यादव, श्याम बाबू त्रिपाठी, कुसुमलता उपाध्याय, अनूप परमार, अरुण यादव, मनोज दीक्षित समेत तीस कार्यकर्ता रहे।

नौरंगाबाद पुलिस चौकी पर कांग्रेसियों को रोकते एसडीएम राजेश वर्मा। संवाद

नौरंगाबाद पुलिस चौकी पर कांग्रेसियों को रोकते एसडीएम राजेश वर्मा। संवाद– फोटो : ETAWAH

इटावा। केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियों और महंगाई के विरोध में शुक्रवार को कांग्रेसी सड़कों पर उतर आए। नगर पालिका चौराहे से जिला मुख्यालय का घेराव करने जा रहे कांग्रेसियों को पुलिस ने नौरंगाबाद पुलिस चौकी पर रोक लिया। करीब 30 प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। इस दौरान महंगाई और केंद्र सरकार की अर्थी को लेकर पुलिस और कांग्रेसियों में छीना झपटी हुई। पुलिस ने अर्थी छीन लिया।

कांग्रेस के जिला कार्यालय से केंद्र सरकार की अर्थी रूपी पुतले की शवयात्रा निकालने की कोशिश कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ता कुछ दूर ही चले थे कि पुलिस ने अर्थी छीन ली। इसके बाद कांग्रेसी पैदल ही नारेबाजी करते हुए कचहरी की ओर चल दिए। रोका टोकी पर जिलाध्यक्ष मलखान सिंह यादव तथा शहर अध्यक्ष पल्लव दुबे की पुलिस से नोकझोंक होती रही।

कोतवाल भूपेंद्र राठी की अगुवाई में पुलिस बल कांग्रेसियों को रोकने में लगा रहा। नौरंगाबाद पुलिस चौकी के पास पुलिस ने बैरियर लगा दिए। वहां सिटी मजिस्ट्रेट राजेंद्र प्रसाद, एसडीएम राजेश कुमार वर्मा, एसपी सिटी कपिल देव, सिटी अमित कुमार भी पुलिस बल के साथ पहुंच गए।

नौरंगाबाद चौकी के पास ही जिलाध्यक्ष और शहर अध्यक्ष समेत 30 कांग्रेसियों को हिरासत में ले लिया गया। यहां से उन्हें पुलिस लाइन ले जाया गया। प्रदर्शन के दौरान महंगाई के साथ-साथ ईडी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई।

इस प्रदर्शन में शामिल होकर गिरफ्तारी देने वालों में कांग्रेस नेता सुखराम सिंधी, कोमल सिंह कुशवाहा, वाचस्पति द्विवेदी, राम नरेश यादव, श्याम बाबू त्रिपाठी, कुसुमलता उपाध्याय, अनूप परमार, अरुण यादव, मनोज दीक्षित समेत तीस कार्यकर्ता रहे।

नौरंगाबाद पुलिस चौकी पर कांग्रेसियों को रोकते एसडीएम राजेश वर्मा। संवाद

नौरंगाबाद पुलिस चौकी पर कांग्रेसियों को रोकते एसडीएम राजेश वर्मा। संवाद– फोटो : ETAWAH



Source link

0Shares

Leave a Reply

%d bloggers like this: