उत्तर प्रदेश जालौन

फर्जी खबर से मचा हड़कंप–

मुख्य सचिव द्वारा हेलीकॉप्टर से पशुओं की निगरानी की फर्जी खबर से अधिकारियों के हाथ-पैर फूले

०आवारा पशुओं को खोजखोज कर अस्थाई गौशालाओं में बंद कराये गये

उरई (जालौन)। (गोविंद सिंह दाऊ):- मुख्य सचिव द्वारा हेलीकॉप्टर से अन्य पशुओं की निगरानी की फर्जी खबर पर प्रशासन के आला अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए। नगर में राजस्व और नगर निकाय के कर्मचारियों ने सड़कों से अन्ना पशुओं को ढूंढ-ढूंढ कर अस्थाई गौशालाओं में भेजने का काम किया। बाद में एहसास हुआ की खबर असत्य थी तो राहत की सांस ली।
इसके अलावा जिलाधिकारी द्वारा नगर निकाय की देखरेख में संचालित अस्थाई गौशालाओं, उनमें भूसा-चारा की उपलब्धता, संख्या आदि का विवरण भी उपलब्ध कराने की जांच का आदेश दिया गया था।जिस पर माधौगढ़ में नगर पंचायत कार्यालय द्वारा किसी भी अस्थाई गौशाला का संचालन नहीं पाया गया। जबकि नगर पंचायत के कर्मचारियों ने राजस्व के जांच अधिकारियों के ऊपर फर्जी रिपोर्ट तैयार करने का दबाव बनाया ताकि उसके एवज में शासन द्वारा लाखों रुपए का धन स्वीकृत हो सके। जांच के दौरान राजस्व के अधिकारियों ने अपनी रिपोर्ट डीएम को प्रेषित करते हुए बताया कि दिसंबर 2018 से उपजिलाधिकारी की निगरानी में अस्थाई गौशाला जन सामान्य के सहयोग से गन्ना मील में चलाई जा रही है। जिसमें नगर पंचायत द्वारा सिर्फ पानी की व्यवस्था की गई। चार-भूसा आदि कुछ भी नहीं पाया गया बल्कि वहां अन्ना जानवर भी नहीं पाए गए थे।

Leave a Reply