उत्तर प्रदेश जालौन

पन्द्रह दिन पहले कुएं में बंदर, प्रशासन ने नहीं कोई सुध

उरई (जालौन)। (गोविंद सिंह दाऊ):- कालपी तहसील के मुहल्ला कागजीपुरा में बने कुएं में पानी की तलाश में दो बंदर लगभग 30 फीट गहरे कुएं में गिर पड़े लेकिन हद तो तब हो गई कि बंदरों को गिरे लगभग 15 दिन बीत चुके हैं लेकिन प्रशासन और वन विभाग के अधिकारी इन बेजुबानो की कोई सुध नहीं ले रहे है अगर जल्द ही इन बेजुबान जानवरों को कुएं से बाहर निकालने की कोशिश नहीं की गई तो यह बेजुबान बंदर कुएं के अंदर ही दम तोड़ देंगे।
मोहल्ले वासी बताते हैं कि15 दिन पहले दो बंदर कुएं में गिर पड़े थे जिन्हें मोहल्ले वासी जिंदा रखने के लिए रोटी और पानी की व्यवस्था कुएं में ही करते हैं मोहल्ले वासियों ने बंदरों को कुएं से निकालने की बहुत कोशिश की लेकिन सारी कोशिशें नाकाम साबित हुई जबकि बंदरों को कुएं से बाहर निकालने की जिम्मेदारी वन विभाग की बनती है लेकिन वन विभाग तो कुंभकरण की नींद सोया हुआ है। मोहल्ले वासियों ने बताया कि करीब 15 दिन पहले दो बंदर कुएं में गिर गए थे इसकी सूचना वन विभाग के अधिकारियों को भी दी गई थी लेकिन वन विभाग ने खानापूर्ति करने के अलावा कुछ नहीं किया ।इन बंदरों को जिंदा रखने के लिए रोटी और पानी की व्यवस्था कुएं में रस्सी डालकर मुहल्ले वासियों द्वारा की की जाती है। इन बेजुबान जानवरों का इतनी भीषण गर्मी में लगभग 30 फीट गहरे सूखे कुएं के अंदर क्या हाल होगा यह तो यह बेजुबान जानवर ही महसूस कर रहे होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *