उरई (जालौन)। अभी जून माह के सप्ताह भर से आसमान से आग बरस रही है जिसके चलते आमजन का जीना दुश्वार होता जा रहा है।इन दिनों सूर्य के प्रकोप के चलते गर्मी अपने पूरे शबाब पर है।आसमान से बरसती आग से दिन प्रतिदिन पारा और लू के थपेड़ों से लोगों जनजीवन अस्थ ब्यस्त होता जा रहा है। सुबह से चिल चिलाती धूप से डरे लोग अपने अपने घरों में कैद हो जाते है।इस प्रचंड गर्मी के चलते कूलर-एसी और पंखे बेअर सिद्ध होते नजर आ रहे है। अप्रैल माह के शुरुआती दौर से सूर्यनारायन ने अपना विकराल रूप धारण कर शुरू कर दिया जो लगातार उग्र होता जा रहा है जिसके चलते आम जनजीवन के साथ-साथ पशु-पक्षी भी बेहाल है।मौसम मिजाज दिनों-दिन तल्ख होता जा रहा है।आकाश से बरसती आग से पारा भी आसमान छूने लगता है। सुबह होते ही मौसम में परिवर्तन होने लगता है।तपिस और चिलचिलाती धूप और गर्म हवाओं से लोगों की हालत खस्ता है। भीषण तपन के चलते दोपहर होते ही बाजारों में सन्नाटा छा जाता है जिसके चलते चंद लोग ही सड़कों पर नजर आते है।

0Shares

Leave a Reply

%d bloggers like this: