ख़बर सुनें

आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के मौके पर जश्न का रंग शहर से लेकर गांव की गलियों तक में दिखाई पड़ने लगा है। सभी इंडिया मार्क टू हैंडपंप को तिरंगे के रंग में रंगा जा रहा है। गोरखपुर जिले में हर घर तिरंगा अभियान का नोडल बनाए गया पंचायती राज विभाग, अब तक 600 से अधिक हैंड पंप को तिरंगे का रंग दे चुका है।

उधर जीडीए, रामगढ़ताल किनारे सामूहिक राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत की तैयारियों में जुटा है। इसी तरह अन्य विभाग भी तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटे हैं। आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत गांवों में तैयारियां शुरू हो गई हैं। हर घर तिरंगा अभियान के तहत सभी घरों पर तिरंगा तो फहराया ही जाएगा, गांवों के सरकारी यानी इंडिया मार्क टू हैंडपंप को राष्ट्रीय ध्वज के रंग में रंगा जा रहा है।

डीपीआरओ हिमांशु शेखर ठाकुर का कहना है कि इन छोटे-छोटे प्रयासों का मकसद, गांव के हर व्यक्ति को स्वतंत्रता दिवस के इस खास मौके को उल्लासपूर्वक मनाने के लिए प्रेरित करना है। जिले में 1294 ग्राम पंचायतें हैं और इनमें पांच हजार हैंड पंप को तिरंगा के रंग में रंगा जा रहा है। सभी ग्राम पंचायतों को इसमें शामिल किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि इस बार स्वतंत्रता दिवस को धूमधाम के साथ मनाया जाएगा। इसके लिए गांवों में पहले से ही लोगों को प्रेरित किया जा रहा है। सरकारी हैंडपंपों को देखकर राष्ट्रीय ध्वज का ध्यान आएगा। इन हैंडपंपों का अधिकतर लोग प्रयोग करते हैं।

हर घर तिरंगा अभियान के लिए किया जागरूक
हर घर तिरंगा अभियान के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए बृहस्पतिवार को पंचायतीराज विभाग के कर्मचारियों ने डीपीआरओ के नेतृत्व में विकास भवन परिसर में तिरंगे के साथ फोटो खिंचाई। कर्मचारियों ने इसे सोशल मीडिया के विभिन्न ग्रुपों में साझा कर ध्वजारोहण के लिए प्रेरित किया। पंचायतीराज विभाग जिले में हर घर तिरंगा अभियान का नोडल विभाग है। राष्ट्रीय ध्वज के वितरण का काम भी शुरू कर दिया गया है।

 

विस्तार

आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के मौके पर जश्न का रंग शहर से लेकर गांव की गलियों तक में दिखाई पड़ने लगा है। सभी इंडिया मार्क टू हैंडपंप को तिरंगे के रंग में रंगा जा रहा है। गोरखपुर जिले में हर घर तिरंगा अभियान का नोडल बनाए गया पंचायती राज विभाग, अब तक 600 से अधिक हैंड पंप को तिरंगे का रंग दे चुका है।

उधर जीडीए, रामगढ़ताल किनारे सामूहिक राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत की तैयारियों में जुटा है। इसी तरह अन्य विभाग भी तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटे हैं। आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत गांवों में तैयारियां शुरू हो गई हैं। हर घर तिरंगा अभियान के तहत सभी घरों पर तिरंगा तो फहराया ही जाएगा, गांवों के सरकारी यानी इंडिया मार्क टू हैंडपंप को राष्ट्रीय ध्वज के रंग में रंगा जा रहा है।

डीपीआरओ हिमांशु शेखर ठाकुर का कहना है कि इन छोटे-छोटे प्रयासों का मकसद, गांव के हर व्यक्ति को स्वतंत्रता दिवस के इस खास मौके को उल्लासपूर्वक मनाने के लिए प्रेरित करना है। जिले में 1294 ग्राम पंचायतें हैं और इनमें पांच हजार हैंड पंप को तिरंगा के रंग में रंगा जा रहा है। सभी ग्राम पंचायतों को इसमें शामिल किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि इस बार स्वतंत्रता दिवस को धूमधाम के साथ मनाया जाएगा। इसके लिए गांवों में पहले से ही लोगों को प्रेरित किया जा रहा है। सरकारी हैंडपंपों को देखकर राष्ट्रीय ध्वज का ध्यान आएगा। इन हैंडपंपों का अधिकतर लोग प्रयोग करते हैं।

हर घर तिरंगा अभियान के लिए किया जागरूक

हर घर तिरंगा अभियान के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए बृहस्पतिवार को पंचायतीराज विभाग के कर्मचारियों ने डीपीआरओ के नेतृत्व में विकास भवन परिसर में तिरंगे के साथ फोटो खिंचाई। कर्मचारियों ने इसे सोशल मीडिया के विभिन्न ग्रुपों में साझा कर ध्वजारोहण के लिए प्रेरित किया। पंचायतीराज विभाग जिले में हर घर तिरंगा अभियान का नोडल विभाग है। राष्ट्रीय ध्वज के वितरण का काम भी शुरू कर दिया गया है।

 



Source link

0Shares

Leave a Reply

%d bloggers like this: