उत्तर प्रदेश जालौन

नौकरी दिलवाने का झांसा देकर हड़प ली बिकलांग युवती से रकम

० रुपये मांगे तो जानमाल की धमकी व कर दी छेड़खानी

० पीड़ित बिकलांग युवती ने अपनी बिकलांग मां व बाबा को साथ लेकर एसपी से की शिकायत

उरई (जालौन)। ( गोविंद सिंह दाऊ):- अपने को विकलांग परिषद का अध्यक्ष कहने वाले दबंग ने विकलांग युवती को सफाई कर्मी के पद पर नौकरी दिलवाये जाने का झांसा देकर चालीस हजार रुपए हड़प लिए। जब युवती और उसकी विकलांग मां ने रुपये वापस करने की बात कही तो उक्त दबंग ने जान से मारने की धमकी देते हुए विकलांग युवती के साथ छेड़खानी तक कर डाली। पीड़ित विकलांग युवती ने आज अपनी विकलांग मां व बाबा के साथ मिलकर मामले का शिकायती पत्र पुलिस अधीक्षक को देकर न्याय की गुहार लगाई है।
गोहन थाना क्षेत्र के ग्राम राजपुरा निवासी विकलांग युवती कल्पना पुत्री तुलसीराम ने अपनी विकलांग मां व बाबा के साथ पुलिस अधीक्षक को दिये शिकायती पत्र बताया है 15 जुलाई 2016 को उसकी नगर पालिका उरई सफाई कर्मी पर नौकरी लगवाये जाने का झांसा देकर सुरेश कुमार परिहार ब्यौना पुत्र संतराम निवासी मुहल्ला लहारियापुरवा उरई कोतवाली
उरई ने चालीस हजार रुपए ले लिए थे उस समय मेरी विकलांग मां और दो अन्य लोग भी साथ में थे।पीड़ित युवती का आरोप है कि 22 मई 2019 को लगभग 12 बजे फोन करके सुरेश कुमार परिहार उसके मोबाइल पर बुलाया कि तुम अपनी मां के साथ जिला परिषद पर आ जाओ। पीड़ित युवती का कहना कि फोन के आधार पर वह अपनी मां के साथ जिला परिषद आ गयी जहां पर सुरेश कुमार मिला और उससे मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय तक चलने को कहा और मेरी मां से कहा कि तुम यहीं पर रुक़ो और प्रार्थनी को अपने साथ मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय परिसर में एकांत देख कर वहीं पर रुक गया तब उसने सुरेश कुमार से आगे चलने के लिए कहा तो उसने कहा कि हम तुम्हारा पैसा दे देगें बस तुम मेरे पास एक रात रुक जाओ जब युवती ने इसका विरोध किया तो सुरेश कुमार उसके साथ अशलील हरकतें करने लगा तो उसने शोरगुल मचाना शुरू किया तो वह घटना से धमकी देता हुआ भाग गया। पीड़ित युवती का कहना है उसने घटना की जानकारी पहुंच कर अपनी मां को दी और प्रार्थनी मामले की शिकायत को लेकर कोतवाली उरई गई लेकिन मतगणना होने के कारण कोई नहीं मिल सका। पीड़ित युवती ने एसपी को शिकायती पत्र देते हुए न्याय की गुहार लगाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *