ख़बर सुनें

मैनपुरी। जवाहर नवोदय कांड की शनिवार को स्पेशल जज पॉक्सो एक्ट पूनम त्यागी की कोर्ट में सुनवाई हुई। छात्रा की मां ने कोर्ट में अभियोजन पक्ष का समर्थन करते हुए गवाही दी। अभियोजन पक्ष की ओर से छात्रा की मां की गवाही एडीजीसी अनूप यादव ने कराई। अगली सुनवाई के लिए 19 नवंबर की तारीख तय कर दी गई है।
जवाहर नवोदय विद्यालय की कक्षा 11 की छात्रा की मौत के बाद पुलिस द्वारा भेजी गई चार्जशीट के आधार पर स्पेशल जज पॉक्सो एक्ट पूनम त्यागी की कोर्ट में मुकदमा चल रहा है। विद्यालय की तत्कालीन प्राचार्या सुषमा सागर की छात्रा को आत्महत्या के लिए प्रेरित करने के आरोप में हाईकोर्ट से जमानत हो चुकी है। जवाहर नवोदय विद्यालय की कक्षा 11 की छात्रा की 16 सितंबर 2019 को संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई थी। छात्रा का शव हॉस्टल में फंदे पर लटका मिला था। दुष्कर्म और हत्या के आरोप के तहत दर्ज हुई रिपोर्ट पर मुकदमे की सुनवाई चल रही है। शुक्रवार को स्पेशल जज पॉक्सो एक्ट पूनम त्यागी की कोर्ट में छात्रा की मां ने अभियोजन पक्ष का समर्थन करते हुए गवाही दी। एडीजीसी अनूप यादव ने छात्रा की मां की कोर्ट में गवाही कराई।
कोर्ट में पहुंची प्राचार्य
छात्रा को आत्महत्या के लिए प्रेरित करने के आरोप में प्राचार्या सुषमा सागर हाईकोर्ट से जमानत मंजूर होने के बाद जेल से रिहा हो चुकी हैं। शनिवार को वह भी मुकदमे की सुनवाई के लिए कोर्ट में पहुंची। उनकी मौजूदगी में ही छात्रा की मां की गवाही के बाद उनके वकील राकेश तिवारी ने छात्रा की मां के बयानों के आधार पर उससे जिरह की।

मैनपुरी। जवाहर नवोदय कांड की शनिवार को स्पेशल जज पॉक्सो एक्ट पूनम त्यागी की कोर्ट में सुनवाई हुई। छात्रा की मां ने कोर्ट में अभियोजन पक्ष का समर्थन करते हुए गवाही दी। अभियोजन पक्ष की ओर से छात्रा की मां की गवाही एडीजीसी अनूप यादव ने कराई। अगली सुनवाई के लिए 19 नवंबर की तारीख तय कर दी गई है।

जवाहर नवोदय विद्यालय की कक्षा 11 की छात्रा की मौत के बाद पुलिस द्वारा भेजी गई चार्जशीट के आधार पर स्पेशल जज पॉक्सो एक्ट पूनम त्यागी की कोर्ट में मुकदमा चल रहा है। विद्यालय की तत्कालीन प्राचार्या सुषमा सागर की छात्रा को आत्महत्या के लिए प्रेरित करने के आरोप में हाईकोर्ट से जमानत हो चुकी है। जवाहर नवोदय विद्यालय की कक्षा 11 की छात्रा की 16 सितंबर 2019 को संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई थी। छात्रा का शव हॉस्टल में फंदे पर लटका मिला था। दुष्कर्म और हत्या के आरोप के तहत दर्ज हुई रिपोर्ट पर मुकदमे की सुनवाई चल रही है। शुक्रवार को स्पेशल जज पॉक्सो एक्ट पूनम त्यागी की कोर्ट में छात्रा की मां ने अभियोजन पक्ष का समर्थन करते हुए गवाही दी। एडीजीसी अनूप यादव ने छात्रा की मां की कोर्ट में गवाही कराई।

कोर्ट में पहुंची प्राचार्य

छात्रा को आत्महत्या के लिए प्रेरित करने के आरोप में प्राचार्या सुषमा सागर हाईकोर्ट से जमानत मंजूर होने के बाद जेल से रिहा हो चुकी हैं। शनिवार को वह भी मुकदमे की सुनवाई के लिए कोर्ट में पहुंची। उनकी मौजूदगी में ही छात्रा की मां की गवाही के बाद उनके वकील राकेश तिवारी ने छात्रा की मां के बयानों के आधार पर उससे जिरह की।





Source link

0Shares

ताज़ा ख़बरें

%d bloggers like this: