उत्तर प्रदेश जालौन

विश्व पर्यावरण दिवस और ईद-उल-जुहा के अवसर पर ओम कंप्यूटर सेंटर ने नगरपालिका द्वारा निर्मित पार्क गोद लिया

√ फलदार पौधों का रोपण किया है |

ऊरई (जालौन):- इस अवसर पर मुख्य अतिथि महेवा ब्लोक के कृषि समन्यवक नंदलाल राजपूत जी उपस्थित रहे, जिनकी देखरेख में और सलाह के अनुसार पौधारोपण किया गया है |
ओम कंप्यूटर सेंटर के प्रबंधक सुनील हिन्दुस्तानी ने बताया कि विश्व पर्यावरण दिवस पर्यावरण की सुरक्षा और संरक्षण हेतु पूरे विश्व में मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने की घोषणा संयुक्त राष्ट्र ने पर्यावरण के प्रति वैश्विक स्तर पर राजनीतिक और सामाजिक जागृति लाने हेतु वर्ष 1972 में की थी। इसे 5 जून से 16 जून तक संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा आयोजित विश्व पर्यावरण सम्मेलन में चर्चा के बाद शुरू किया गया था। 5 जून 1974 को पहला विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया। इसमें हर साल 143 से अधिक देश हिस्सा लेते हैं और इसमें कई सरकारी, सामाजिक और व्यावसायिक लोग पर्यावरण की सुरक्षा, समस्या आदि विषय पर बात करते हैं।
आगे सेंटर की छात्रा छाया कुमारी ने कहा कि आज के मौसम के हालत के जिम्मेदार सिर्फ वृक्षों का कटान ही है, जो कि बहुत तेजी से बढ़ रहा है और जब तक इस पर रोक नहीं लगेगी तब मानसून में सुधार नहीं होगा | कोई भी वृक्ष लगाना नहीं चाहता है |
इसके बाद रिंकी पाल ने कहा कि १ पेड़ को लगा कर देखभाल करना 100 बच्चों को पालने के बराबर होता है |
इस कार्यक्रम में आरती दोहरे, महेंद्र सर, विशाल सक्सेना, दीपशिखा, निशा पाल, प्रमोद पाल, साजन कुमार, लाली, मनीष कुमार, आशीष कुमार, अंकित कुमार, हिमांशु सोनी, अमन सोनी, सोनू, साक्षी कुमारी, भारत राम, मुनेश राठौर, सुजान विश्वकर्मा, अत्शाम मंसूरी, फरहा खान आदि छात्र/छात्राएं उपस्थित रहे है |

Leave a Reply