उत्तर प्रदेश जालौन

फरियादियो के साथ थाना अध्यक्ष ने की गालीगलौज धमकाते हुए थाने से निकला बाहर

https://youtu.be/5V5oBs93-IU

रामपुरा (जालौन) :- पीड़ित परिवार अपनी फरियाद लेकर थाने आया तो थाना अध्यक्ष ने गरीब पीड़ित परिवार की एक न सुनते हुए, उन्ही को कसूरवार बताते हुए थाना परिसर से गालीगलौज करते हुए बाहर का रास्ता दिखा दिया। जानकारी के अनुसार अनंत भट्टे पर कल शाम को दो घटनाये वहाँ पर काम करने वाले पथारों के साथ घटी। जिसमे संतोष पुत्र ग्याराम को भट्टे पर मौजूद मगरूर व अन्य तीन साथियों ने किसी बात को लेकर मारपीट कर दी। जिसकी सूचना पीड़ित ने 100 डायल पर की पुलिस मौके पर पहुँचकर मगरूर को पकड़कर थाने ले आयी। व पीड़ित को सुबह थाने आने को कहा। सुबह होते ही पीड़ित संतोष व उसका भाई मनमोहन और भाभी समरवती थाने पहुँची व अपनी आप बीती बया की। जिस पर थाना अध्यक्ष ने पीड़ित पक्ष पर समझौता करने का दबाव बनाया, जिस पर पीड़ित परिवार राजी नहीं हुआ। सामरवती ने थाना अध्यक्ष से कहा कि आप हमारे साथ न्याय कीजिए। जिस पर थाना अध्यक्ष ने आरोपी को छोड़ दिया व पीड़ित संतोष को थाने में बंद कर दिया। व समरवती को गन्दी गली देते हुए थाना परिसर से बाहर निकाल दिया। पीड़ित पक्ष भट्टे पर काम करके अपना भरणपोषण करते हैं। राठ के रहने वाले हैं। थाना अध्यक्ष के इस रवैये से काफी दुःखी हैं। पीड़ित पक्ष ने आरोप लगाते हुए कहा कि मगरूर भट्टा मालिक का खास आदमी हैं। उसने थाना अध्यक्ष को घूस देकर हमारे साथ अन्याय करा रहा हैं। वही दूसरी तरफ अनंत भट्टे पर काम करने वाले जैकरन की पत्नी सुनीता के साथ शिशपाल द्वारा जोरजबरदस्ती की गई। जिसकी शिकायत पीड़िता ने थाने आकर की तो इन लोगो के साथ भी थाना अध्यक्ष द्वारा अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए थाने से भगा दिया गया। पीड़िता गाँव परा थाना राठ के निवासी हैं। यहाँ अनंत भट्टे पर ईट पाथने के काम से आये हुए हैं। पीड़ितों के साथ इस तरह का व्यवहार अमानवीय हैं। थाना रामपुरा के इंसपेक्टर साहब का व्यवहार नया नही है पहले भी पीड़ितों के साथ इस प्रकार का व्यवहार कर चुके है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *